×
×
×

मिस्टर ट्रम्प अब मौत के साये में जियो, तुम्हे कोई हीरो नहीं मानता : ज़ैन ...

 आईएसएईएस और अल क़ायदा के विरुद्ध संघर्ष का नेतृत्व करने वाले मेरे पिता की हत्या करने वाले ट्रम्प तुम्हे कोई हीरो नहीं मानता।

22 January 2021 01:41 am42 Hit

इराक को दुनिया ने अकेला छोड़ा तो सरदार सुलैमानी ने हाथ थामकर संकट से निका ...

शहीद सुलैमानी उस समय इराक और हमारी जनता के लिए सामने आये जब पूरी दुनिया ने हमसे मुंह फेर लिया था और इराक के सुन्नी बहुल शहरों पर दाइश के क़ब्ज़े से खुश थे।  ऐसे माहौल में सरदार सुलैमानी इराक की ...

7 January 2021 05:14 am20 Hit

अमेरिका ने क़ासिम सुलैमानी की हत्या कर इराक से अपने निकलने पर मोहर लगा ल ...

सरदार सुलैमानी की शहादत ने वह काम कर दिखाया जो शायद वह ज़िंदा रहते हुए न कर पाते उनकी शहादत के बाद इराक पार्लियामेंट ने अमेरिकी सेना को देश से निकालने का क़ानून पारित किया जिसके लिए शहीद क़ासिम सुलैमा ...

3 January 2021 03:46 am8 Hit

फिलिस्तीन की गलियों में शहीद क़ासिम सुलैमानी की तस्वीरें , इस्राईल ग़ुस्स ...

फिलिस्तीन के ग़ज़्ज़ा में शहर भर में जगह जगह इस महान कमांडर की तस्वीरें और बड़े बड़े होर्डिंग लगाये गए हैं जिस ने अवैध राष्ट्र इस्राईल को ग़ुस्से से पागल कर दिया है।

31 December 2020 04:10 am13 Hit

शहीद क़ासिम सुलैमानी मर्दे मैदान थे, मैं उन पर अपनी जान लुटाने को तैयार : ...

मेरी ज़िन्दगी में अल्लाह की एक बड़ी नेमत यह रही कि मैं शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी को जानता था। मैं हमेशा तैयार था कि अपनी जान उन पर क़ुर्बान कर सकूँ।

31 December 2020 03:50 am18 Hit

सरदार सुलैमानी के चाहने वालों के लिए अंतर्राष्ट्रीय साइट "जनरल सुलै ...

यह साइट शहीद सुलैमानी से अक़ीदत रखने वाले एवं उनकी जीवनी पर काम करने वाले तथा प्रतिरोध के बारे में जानकारी रखने के इच्छुक लोगों के लिए बहुत लाभकारी होगी।  बहुत जल्द ही इस साइट पर उन से संबंधित ...

31 December 2020 03:15 am14 Hit

शहीद सरदार क़ासिम सुलैमानी का इलाही सियासी वसीयत नामा - अंतिम भाग

मैं आयतुल्लाह ख़ामेनई को बहुत अकेला और मज़लूम महसूस करता हूँ  उनके आपके साथ और मदद की ज़रूरत है । आप सब सम्मानित अपने बयान और मुलाक़ातों और उनका समर्थन कर समाज को सही रास्ते की ओर ले जा सकते हैं । ...

29 December 2020 04:23 am15 Hit

शहीद सरदार क़ासिम सुलैमानी का इलाही सियासी वसीयत नामा - 4

अपने शहीदों को अपने अंदर ज़िंदा कीजिए इस तरह के जब भी कोई आपको, यानी किसी शहीद के बेटे को, किसी शहीद के बाप को देखे तो उसे यह महसूस हो कि वह खुद शहीद को उसी मानवीयत, रूहानियत और रौब और जलाल के साथ ...

28 December 2020 04:40 am17 Hit

शहीद सरदार क़ासिम सुलैमानी का इलाही सियासी वसीयत नामा - 3

इमाम ख़ुमैनी का हुनर यह था कि उन्होंने पहले इस्लाम को ईरान में लागू किया और फिर ईरान को इस्लाम की खिदमत के लिए तैयार किया। अगर इस्लाम ना होता और इस्लामी रूह समाज में ना पाई जाती तो सद्दाम खूंखार भे ...

27 December 2020 03:47 am12 Hit

शहीद सरदार क़ासिम सुलैमानी का इलाही सियासी वसीयत नामा - 2

जान लीजिए और सब मतभेदों को एक तरफ डाल दीजिए और कभी भी विलायते फ़क़ीह से मुंह मत मोड़ना इसी में इस्लाम की भलाई है।
यह ख़ैमा रसूल अल्लाह स.अ. का ख़ैमा है और इसी वजह से सारी दुनिया इस्लामी गणतंत्र ...

25 December 2020 12:54 am25 Hit

शहीद क़ासिम सुलैमानी और अबू मेहदी अल-मुहंदिस की याद में जगह जगह प्रोग्राम ...

अगर जंग के मैदान में वह बे मिसाल कमांडर थे तो मुसल्ले पर भी अल्लाह के एक सच्चे और नेक बंदे की तरह दिखाई देते थे।

24 December 2020 11:27 pm13 Hit

शहीद सरदार क़ासिम सुलैमानी का इलाही सियासी वसीयत नामा - 1

मेरी झोली तेरे फ़ज़्लो करम की उम्मीद से भरी हुई है। मैं अपने साथ दो बंद आंखें लाया हूं , तमाम तरह की नापाकियों के बावजूद एक अज़ीम सरमाया लेकर आया हूं और वह सरमाया है ग़में हुसैन के आंसू! अहलेबैत की ...

24 December 2020 04:21 am58 Hit

शहीद क़ासिम सुलैमानी की शहादत ने आयतुल्लाह सीस्तानी का दिल खून कर दिया : ...

 सरदार की शहादत के अवसर पर आयतुल्लाह खामनेई को भेजे गए आयतुल्लाह सीस्तानी के शोक संदेश की याद दिलाते हुए कहा कि आयतुल्लाह सीस्तानी ने लिखा था कि "सरदार क़ासिम सुलैमानी की शहादत की खबर हमार ...

24 December 2020 03:07 am19 Hit

शहीद सुलैमानी और अबू महदी मोहंदिस को इराकी संसद ने दी श्रद्धांजलि

अबू महदी आज प्रतिरोध और देश के गौरव के प्रतीक और हीरो हैं वह हमारे शिक्षक और प्रेरणास्रोत हैं  हम उनेह और उनके साथियों विशेष कर शहीद सुलैमानी को एक हीरो के रूप में देखते हैं सुलैमानी इस्लामी ज ...

20 December 2020 03:31 am4 Hit

सरदार सुलैमानी के हत्यारों और हत्या का आदेश देने वालों से बदला ज़रूर लेंग ...

जब भी संभव हुआ इन्तेक़ाम निश्चित है उनके हत्यारों को अपनी इस हरकत का बदला चुकाना ही होगा हालाँकि क़ासिम सुलैमानी का जूता भी उनके दुशमनो से सरों से कहीं अधिक मूल्यवान है।

17 December 2020 04:15 am9 Hit
फॉलो अस
नवीनतम