Code : 1564 462 Hit

यमन के दिलेरों ने पाकिस्तान के पूर्व सेनाध्यक्ष राहिल शरीफ के जवानों को मार भगाया

सऊदी अरब के नजरान प्रान्त में यमन के इस सैन्य अभियान में भारी संख्या में सऊदी लड़ाके मारे गए हैं कहा जा रहा है कि इन जवानों की अगुवाई पाकिस्तान के पूर्व सेनाध्यक्ष राहिल शरीफ कर रहे थे।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार यमन संयुक्त बलों ने नसरूम मिनल्लाह सैन्य अभियान के तहत 7000 सऊदी लड़ाकों को बंदी बनाते हुए सऊदी अरब सेना की जो तीन तीन सैन्य ब्रिगेड तबाह की है उस का नेतृत्व पाकिस्तान के पूर्व सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ के हाथों में है
सऊदी अरब के दो तेल संयत्रों पर हुए ड्रोन हमले के बाद से ही इस क्षेत्र के हालात बिगड़ते जा रहे हैं
सऊदी अरब के नजरान प्रान्त में यमन के इस सैन्य अभियान में भारी संख्या में सऊदी लड़ाके मारे गए हैं कहा जा रहा है कि  इन जवानों की अगुवाई पाकिस्तान के पूर्व सेनाध्यक्ष राहिल शरीफ कर रहे थे।
यमन संयुक्त बलों ने रविवार को एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें सऊदी अरब के दक्षिणी बॉर्डर के पास नजरान में हमला किया गया। जिसमें सैकड़ों जवान मारे गए और बाद में हजारों जवानों ने सरेंडर कर दिया था, इसमें तीन ब्रिगेड की अगुवाई पाकिस्तानी सेना के पूर्व प्रमुख राहिल शरीफ कर रहे थे।

याद रहे कि यह ब्रिगेड इस्लामिक मिलिट्री काउंटर टेररिज्म गठबंधन (IMCTC) के तहत आती है, यह गठबंधन सऊदी अरब के घटक देशों की ओर से ISIS और विद्रोही ग्रुपों के खिलाफ लड़ाई के लिए बनाया गया था तथा राहिल शरीफको इस गुट का  कमांडर इन चीफ नियुक्त किया गया था।
आपको बता दें कि यमन पर आले सऊद के बर्बर हमलों के जवाब में अंसारुल्लाह यमन ने बीते दिनों सऊदी अरब की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको के दो तेल संयंत्रों पर ड्रोन हमला किया था,अमेरिका की ओर से इस हमले का ठीकरा ईरान पर फोड़ा गया था।
गौरतलब है कि यमन में पिछले चार साल से संघर्ष जारी है। जिस में आले सऊद के हमलों के कारण हज़ारों यमनी नागरिकों की मौत हो गयी है जिसमे बड़ी संख्या में  महिलाएं और बच्चे शामिल हैं , सऊदी अत्याचार का सामना कर रहा पश्चिमी एशिया का यह ग़रीब देश कई मानवीय संकट से जूझ रहा है ।

.................

1
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम