Code : 1801 129 Hit

हिज़्बुल्लाह और हमास से चोट खाया इस्राईल क्या अंसारुल्लाह से उलझने की भूल करेगा ?

अवैध राष्ट्र ने हिज़्बुल्लाह और हमास को तो परख लिया है लेकिन उसे अभी अंसारुल्लाह का तजुर्बा नहीं है, अगर अंसारुल्लाह ने इस्राईल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया तो लाल सागर में इस्राईली जहाज़ और ईलात समेत डिमोना परमाणु रिएक्टर खतरे में पड़ जाएगा।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के यमन में किसी भी प्रकार के दुस्साहस के जवाब में अतिगृहित फिलिस्तीन को निशाना बनाने की अंसारुल्लाह की धमकी के बाद से ही अवैध राष्ट्र के नेताओं में बेचैनी फैली हुई है ।
अरब जगत के प्रख्यात विश्लेषक और रायुल यौम के संपादक अब्दुल बारी अतवान ने अल मयादीन चैनल से बात करते हुए कहा कि यमन जनांदोलन अंसारुल्लाह के प्रमुख अब्दुल मालिक हौसी के बयान ने इस्राईल में खौफ और भय फैला दिया है ज्ञात रहे कि कल ही अब्दुल मलिक अल हौसी ने कहा था कि अगर अवैध राष्ट्र ने यमन में कोई दुस्साहस किया तो हम अवैध राष्ट्र के खिलाफ मोर्चा खोलने में ज़रा भी देर नहीं लगाएंगे ।
अतवान ने कहा कि अंसारुल्लाह की ओर से अवैध राष्ट्र की धरती पर ज़ायोनी लक्ष्यों को निशाना बनाये जाने के बयान ने अवैध राष्ट्र को डरा दिया है अवैध राष्ट्र ने हिज़्बुल्लाह और हमास को तो परख लिया है लेकिन उसे अभी अंसारुल्लाह का तजुर्बा नहीं है, अगर अंसारुल्लाह ने इस्राईल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया तो लाल सागर में इस्राईली जहाज़ और ईलात समेत डिमोना परमाणु रिएक्टर खतरे में पड़ जाएगा।
याद रहे कि यमन जनांदोलन अवैध राष्ट्र को मान्यता नहीं देता तथा उसे अवैध राष्ट्र मानते हुए उसके विरोध को नैतिक , धार्मिक एवं मानवीय कर्तव्य बताता है ।
.........................

2
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम