×
×
×

इस्राईल का चप्पा चप्पा हमारी मिसाइल के निशाने पर : यमन

इस्राईल जानता है कि प्रतिरोध के केंद्र ने क्षेत्र के कई देशों और संगठनों को एकजुटता की माला में पिरो दिया है, और यह इस्राईल के हित में नहीं है कि वह युद्ध की आग भड़काएं ऐसा हुआ तो बात लेबनान और सीरिया तक नहीं रहेगी बल्कि क्षेत्रीय जल सीमा से बाहर निकल अंतर्राष्ट्रीय जलक्षेत्र तक पहुँच जाएगी।

विलायत पोर्टल :  मीडिल ईस्ट के हालात से घबराए अवैध राष्ट्र इस्राईल के लिए यमन जनांदोलन अंसारुल्लाह, हिज़्बुल्लाह और हमास के बाद एक और गंभीर खतरा बनकर उभरा है।  लेबनान सीमा पर अवैध राष्ट्र की गतिविधियों और हिज़्बुल्लाह से जारी तनातनी के बीच यमन ने स्पष्ट किया है कि हिज़्बुल्लाह के खिलाफ इस्राईल की कोई भी हरकत प्रतिरोधी मोर्चे के खिलाफ युद्ध समान मानी जाएगी।
यमन के विदेश मंत्री हेशाम शरफ ने कहा कि आंतरिक गतिरोध से जूझ रहे इस्राईल की यह हरकतें अमेरिकी चुनाव और अपनी अंदरूनी मुद्दों से भागने का प्रयास है।
इस्राईल जानता है कि प्रतिरोध के केंद्र ने क्षेत्र के कई देशों और संगठनों को एकजुटता की माला में पिरो दिया है, और यह इस्राईल के हित में नहीं है कि वह युद्ध की आग भड़काएं ऐसा हुआ तो बात लेबनान और सीरिया तक नहीं रहेगी बल्कि क्षेत्रीय जल सीमा से बाहर निकल अंतर्राष्ट्रीय जलक्षेत्र तक पहुँच जाएगी।
शरफ़ ने इस्राईल से संबंधित राष्ट्राध्यक्षों को संदेश देते हुए कहा कि तल अवीव को समझा दो उसके दूरस्थ स्थान से लेकर समुद्री ठिकाने तक कोई स्थान सुरक्षित नहीं रहेगा सब हमारी मिसाइलों की रेंज में हैं।
............

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम
हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई के बया ...

इस्लामी एकता के परिणाम