Code : 1590 827 Hit

अरबईन बिलियन मार्च से बौखलाया साम्राज्यवाद, अमेरिका की धमकी, बसरा को आग लगा देंगे ।

अरबईन का जो संदेश और इमाम हुसैन अ.स. का जो पैग़ाम है वह साम्राज्यवादी धड़े विशेष कर ज़ायोनी वहाबी और अमेरिकी धड़े के लिए बहुत खतरनाक है अतः वह हर प्रकार कोशिश कर रहे हैं इस महान मार्च और इंक़ेलाबी मुहीम को प्रभावित करें और इसकी शान और भव्यता को प्रभावित करें ।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार इराक में बुरी तरह मुंह की खाने वाले अमेरिका ने अपने हितों को साधने के लिए बगदाद सरकार के खिलाफ हर हथकंडा अपना लिया है लेकिन हर बार मरजईत और इराक की जनता के मुक़ाबले मुंह की खाने के बाद खुली गुंडागर्दी पर उतर आया  ।
ज़ायोनी वहाबी और साम्राज्यवादी प्रायोजित हालिया प्रर्दशनों की आड़ में भी भी अपने हितों को साधने में मिली नाकामी के बाद अमेरिकी सरकार ने नीचता की हदों को पार करते हुए इराक के बसरा प्रांत मे आरजकता और खून खराबा कराने की धमकी दी  ।
बसरा से पार्लियामेंट सदस्य हसन सलीम ने कहा कि गत वर्ष अरबईन के अवसर पर ही बसरा में ऐसे प्रदर्शन हुए थे तब अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के विशेष दूत ने हम से कहा था कि अगर बग़दाद में अमेरिका के हितों को साधने वाली सरकार न बनी तो हम बसरा में आग लगा देंगे ।
इराक पार्लियामेंट के एक अन्य  सदस्य अदी अवाद ने कह कि हम ने बसरा में विरोध प्रदर्शनों में भाग ले रहे ऐसे बहुत से लोगों को बंदी बनाया था जो इस प्रान्त के थे ही नहीं और उन्हें अमेरिकी दूतावास से इन प्रदर्शनों को हिंसक बनाने के लिए ट्रेनिंग और भारी मात्रा में रक़म दी गई थी
विरोध प्रदर्शन ख़त्म हो गए, इराक में कठपुतली सरकार के बजाए संप्रभु और इराकी हितों की रक्षक सरकार बनी और इमाम हुसैन अ.स. का अरबईन भी पूरी भव्यता और शानो शौकत के साथ मनाया गया ।
गत वर्ष मुंह की खाने वाले अमेरिकी और साम्राज्यवादी टोला प्रतिरोधी दलों के बढ़ते प्रभाव और अरबईन की भव्यता को देख रहा था वह तब से ही अरबईन को विफल बनाने की योजनाएं बनाने में जुटे हैं ।
अरबईन का जो संदेश और इमाम हुसैन अ.स. का जो पैग़ाम है वह साम्राज्यवादी धड़े विशेष कर ज़ायोनी वहाबी और अमेरिकी धड़े के लिए बहुत खतरनाक है अतः वह हर प्रकार कोशिश कर रहे हैं इस महान मार्च और इंक़ेलाबी मुहीम को प्रभावित करें और इसकी शान और भव्यता को प्रभावित करें ।
इराक के हालिया प्रदर्शन जिन में अरबईन बिलियन मार्च और मराज-ए-केराम को भी निशाना बनाया था इसी साज़िश का एक भाग थे ।







....................



2
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम