×
×
×

सीरिया युद्ध, 10 साल, 11 मिलियन शरणार्थी, साम्राज्यवादी शक्तियों अपने नापाक उद्देश्यों में रहीं नाकाम

इस युद्ध में कम से कम 384 हज़ार लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है जिस में 116 हज़ार से अधिक आम नागरिक थे वहीँ 11 मिलियन लोगों को अपने घरबार से बेदखल होकर शरणार्थियों की ज़िंदगी जीना पड़ रही है ।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार सीरिया में साम्राज्यवाद प्रायोजित आतंकवाद के विरुद्ध संघर्ष के 10 साल पूरे हो रहे हैं और सीरियन सेना निर्णायक जीत से बस कुछ क़दम की दूरी पर है ।
सीरियन सेना ने रूस , ईरान और प्रतिरोधी दलों की सहायता से ज़ायोनी सऊदी साम्राज्यवादी धड़ों की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए देश के अधिकांश भाग को आतंकियों से मुक्त करा लिया है लेकिन इस संघर्ष में भारी जानी और माली हानि उठाना पड़ी है सीरिया का मूलभूत आधार ढांचा बर्बाद हो गया है ।
इस युद्ध में कम से कम 384 हज़ार लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है जिस में 116 हज़ार से अधिक आम नागरिक थे वहीँ 11 मिलियन लोगों को अपने घरबार से बेदखल होकर शरणार्थियों की ज़िंदगी जीना पड़ रही है ।
सऊदी ज़ायोनी धहड़े द्वारा प्रायोजित इस आतंकवाद में सीरिया का इंफ्रास्ट्रक्चर बर्बाद हो गया है जिस की अनुमानित लागत 400 अरब डॉलर के आसपास है ।
आज सीरिया का अधिकांश भाग आतंकी संगठनों के क़ब्ज़े से आज़ाद हो गया है सीरियन सेना इदलिब में आतंकी संगठनों के खिलाफ अभियान छेड़े हुए है लेकिन आज भी उस की राह आतंकियों का समर्थन कर रहे तुर्की और अमेरिका सबसे बड़ी बाधा हैं ।
वहीँ उत्तर सीरिया के तेल मैदानों पर क़ब्ज़ा जमाए बैठी अमेरिका की आतंकी सेना से इन क्षेत्रों को मुक्त करां भी सीरिया के लिए चुनौतीपूर्ण होगा ।.....................

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम