×
×
×

10 साल बाद गले मिले सीरिया के दो क़बीले, आयतुल्लाह ख़ामेनई के दूत ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

नईम और शमर नामक इन क़बीलों के बीच आयतुल्लाह तबातबाई और स्थानीय बुज़ुर्गों की मेहनत के बाद सुलह समझौता हो गया है और दोनों पक्षों ने अपने मतभेदों को भुला कर एक दूसरे को गले लगाया

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार सीरिया में आयतुल्लाह ख़ामेनई के दूत आयतुल्लाह सय्यद अबुल फ़ज़ल तबातबाई के प्रयासों के बाद दमिश्क़ के उप नगरों में रहने वाले दो बड़े क़बीलों के वर्षों से चला आ रहा विवाद और मनमुटाव खत्म हो गया है।
रिपोर्ट के अनुसार नईम और शमर नामक इन क़बीलों के बीच आयतुल्लाह तबातबाई और स्थानीय बुज़ुर्गों की मेहनत के बाद सुलह समझौता हो गया है और दोनों पक्षों ने अपने मतभेदों को भुला कर एक दूसरे को गले लगाया।
सुप्रीम लीडर के  प्रतिनिधि के जनसंपर्क कार्यालय के अनुसार दमिश्क़ के शबआ क्षेत्र में रहने वाले इन दोनों क़बीलों ने आयतुल्लाह तबातबाई और स्थानीय बुज़ुर्गों के सामने अपने मतभेदों को समाप्त किया।
............



लाइक कीजिए
0
0
17 June 2020
Massallah
जवाब
0
ZAIGHAM ABBAS 17 June 2020
سبحان اللہ تمام عبادتوں میں افضل عبادت اللہ قبول فرمائے اور بہترین اجر عطا فرمائے
जवाब
0
17 June 2020
Mashallah, maula salamat rakhe dono hi kabeele walo ko. Panjatan pak a.s. Apne hifzo aman mein rakhe. Ameen
जवाब
फॉलो अस
नवीनतम
हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई के बया ...

इस्लामी एकता के परिणाम