×
×
×

कोरोना का सामना कर रहे ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध मानवता विरोधी :न्यूयॉर्क टाइम्स

एक ओर जब ईरान में कोरोना लहर अपने चरम पर है और इसे रोकने के लिए इस देश ने विश्व बैंक से क़र्ज़ लेना चाहा तो अमेरिका ने विश्व बैंक से 5 अरब डॉलर के क़र्ज़ लेने की उसकी मुहिम में अड़ंगा लगाया साथ ही इस महामारी से निपटने के लिए ज़रूरी दवाओं की खरीद में भी उसकी राह में बाधाएं उतपन्न कर दी है।

विलायत पोर्टल :  अमेरिका के प्रख्यात समाचार पत्र न्यूयॉर्क टाइम्स कोरोना काल में भी ईरान के खिलाफ अमेरिका के बढ़ते प्रतिबंधों की निंदा करते हुए कहा कि कोरोना के दौर में ईरान पर प्रतिबंध लगाना क्रूरता है।
न्यूयॉर्क टाइम्स ने ईरान के खिलाफ ट्रम्प की अधिकतम दबाव की निती की विफलता का उल्लेख करते हुए कहा कि ऐसे समय में ईरान के खिलाफ प्रतिबंध लगाना और साड़ी दुनिया से उसका बैंकिंग बॉयकॉट करने का प्रयास क्रूरता है।
एक ओर जब ईरान में कोरोना लहर अपने चरम पर है और इसे रोकने के लिए इस देश ने विश्व बैंक से क़र्ज़ लेना चाहा तो अमेरिका ने विश्व बैंक से 5 अरब डॉलर के क़र्ज़ लेने की उसकी मुहिम में अड़ंगा लगाया साथ ही इस महामारी से निपटने के लिए ज़रूरी दवाओं की खरीद में भी उसकी राह में बाधाएं उतपन्न कर दी है।
न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने लेख में कहा कि अमेरिका ने जिन 18 बैंकों पर पाबंदी लगाई है उनमे किसानों के लिए काम करने वाला कृषि बैंक { किशावरज़ी  बैंक और मसकन बैंक शामिल हैं जो जनता को मकान खरीदने के लिए लोन देता है।
पहले ईरान पर प्रतिबंध उसको परमाणु गतिविधि रोकने के लिए विवश करने के उद्देश्य से लगाये जाते थे जिस में रूस , चीन और यूरोप भी अमेरिका का समर्थन करते थे लेकिन ईरान के साथ हुए समझौते से बाहर निकल कर अमेरिका सुरक्षा परिषद और संयुक्त राष्ट्र में भी अलग थलग पड़ गया है।
.............

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम