×
×
×
Code : 1919 150 Hit

हिज़्बुल्लाह न होता तो लेबनान के हालात खराब होते : एमिल लुहूद

हिज़्बुल्लाह की प्रतिरोधक क्षमता लेबनान का गौरव है, वह लेबनान की शान है हमे हिज़्बुल्लाह की सैन्य एवं रक्षा क्षमता की आवश्यकता इस लिए है कि हमारी सेना को ज़रूरी उपकरण नहीं मिलते मैं 9 वर्ष तक सशस्त्र सेनाओं का प्रमुख रहा और इस बात को जानता हूँ कि अमेरिका ने कभी हमारी सेना को हथियार नहीं दिए हमे इस्राईल के मुक़ाबले में निहत्था रखा ।

विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार लेबनान के भूतपूर्व राष्ट्रपति एमिल लुहूद ने कहा इस्राईल चाहता है कि लेबनान की रक्षा क्षमता को कमज़ोर कर इस देश में अराजकता फैलाये और हिज़्बुल्लाह लेबनान को निरस्त्रीकरण के लिए मजबूर कर दे ।
आर टी से बात करते हुए लेबनान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि हिज़्बुल्लाह को निरस्त्रीकरण करने की साज़िश पर काम हो रहा है , हिज़्बुल्लाह की प्रतिरोधक क्षमता लेबनान का गौरव है, वह लेबनान की शान है हमे हिज़्बुल्लाह की सैन्य एवं रक्षा क्षमता की आवश्यकता इस लिए है कि हमारी सेना को ज़रूरी उपकरण नहीं मिलते मैं 9 वर्ष तक सशस्त्र सेनाओं का प्रमुख रहा और इस बात को जानता हूँ कि अमेरिका ने कभी हमारी सेना को हथियार नहीं दिए हमे इस्राईल के मुक़ाबले में निहत्था रखा ।
उन्होंने हमे जॉर्डन में 20 साल काम कर चुके पुराने टैंक बेचे लेकिन पैसा भरपूर लिए, हमे ब्रिटेन के वह पुराने हथियार दिए जिन के साथ दुश्मन से मुक़ाबला नहीं किया  जा सकता था।
मैं हिज़्बुल्लाह का समर्थन करता हूँ और इसी लिए देश वासियो से चाहता हूँ कि वह हिज़्बुल्लाह का समर्थन करें लेकिन इस्राईल लेबनान में एक कमज़ोर सेना चाहता है और चाहता है कि हिज़्बुल्लाह को भी निरस्त्रीकरण के लिए मजबूर किया जा सके हमे यह हथियार नहीं रखने चाहिए ,अगर यह हथियार न होते तो आज लेबनान की हालत इराक और अन्य देशों से भी बदतर होती ।
,,...........,,



1
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम