×
×
×

ईरान की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ा रहा सऊदी अरब हुआ अमेरिका से निराश ?

कुछ जानकारों का मानना है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ईरान के खिलाफ अमेरिकी दबाव और साज़िशों की नाकामी के बाद सऊदी अरब की हालिया कोशिशें भी अमेरिकी इशारों पर हो रही हैं, और इस खेल के बड़े खिलाड़ी अमेरिका की तरह इस मोहरे को भी ईरान के खिलाफ पराजय का मुंह देखना होगा।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार अरब विश्लेषक सऊदी अरब के हालिया कुछ निर्णय को देखते हुए एक सवाल बार बार दोहरा रहे हैं   कि  यमन युद्ध की दलदल से निकलने के लिए तीन तीन देशों के नेताओं के हाथों संदेश देने वाला सऊदी अरब क्या अमेरिका से निराश हो चुका है ?
ऐसा लगता है कि  सऊदी अरब को अब अमेरिका पर भरोसा नहीं है लेकिन क्या वह ईरान से दोस्ती करने के लिए गंभीर क़दम उठा पाएगा ?
सऊदी अरब को यक़ीन हो गया है कि अमेरिका ईरान के खिलाफ युद्ध कभी नहीं छेड़ पाएगा विशेष कर ईरान द्वारा अमेरिकी ड्रोन को मार गिराने के बाद ईरान से ट्रम्प की मुलाक़ात की उत्सुकता ने सऊदी अरब को विश्वास दिला दिया है कि  अमेरिका ईरान के खिलाफ युद्ध नहीं छेड़ सकता।
बहुत से विशलेषकों का मानना है कि  सऊदी अरब अरामको जैसे किसी हमले को बर्दाश्त करने की क्षमता नहीं रखता जो उसके तेल उत्पादन को एकदम निम्नस्तर पर ले आए।
वहीँ कुछ जानकारों का मानना है कि  अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ईरान के खिलाफ अमेरिकी दबाव और साज़िशों की नाकामी के बाद सऊदी अरब की हालिया कोशिशें भी अमेरिकी इशारों पर हो रही हैं, और इस खेल के बड़े खिलाड़ी अमेरिका की तरह इस मोहरे को भी ईरान के खिलाफ पराजय का मुंह देखना होगा।








....................

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम