×
×
×

बहरैन, इमाम हुसैन अ.स. के खिलाफ आले खलीफा ने छेड़ रखी है जंग : शैख़ ईसा क़ासिम

जैसे कह रहे हों " हम हुसैन अ.स. को नहीं चाहते, हुसैन अ.स. को छोड़ देना चाहिए और हुसैन अ.स. के खिलाफ जंग पूरी क्षमता के साथ जारी है " आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने कहा कि बहरैन तानाशाही के फरमान से अगर कोई इस से अलग कोई और बात समझता है तो आए और तर्क के साथ बयान करे।

विलायत पोर्टल :  बहरैन के लोकप्रिय नेता और वरिष्ठ धर्मगुरु आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने कोरोना के नाम पर अज़ादारी और माहे मोहर्रम को लेकर आले खलीफा तानाशाही के फरमान को लेकर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि बहरैन तानाशाही इमाम हुसैन अ.स. के खिलाफ जंग छेड़े हुए है।
उन्होंने इस्राईल के साथ संयुक्त अरब अमीरात के संबंधों और बहरैन में जारी घटनाक्रम पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि बहरैन में जो कुछ हो रहा है तानाशाही की ओर से जो कुछ भी हो रहा सब से एक बात समझ में आती है कि बहरैन में इमाम हुसैन अ.स. के खिलाफ जंग जारी है। आयतुल्लाह ईसा क़ासिम की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि एक ओर बहरैन में पिकनिक स्पॉट, बाज़ार, स्विमिंग पूल , जिम खोले जा रहे हैं वहीँ मोहर्रम और मजलिसों को लेकर जारी आदेश से यही समझ में आता है जैसे कह रहे हों " हम हुसैन अ.स. को नहीं चाहते, हुसैन अ.स. को छोड़ देना चाहिए और हुसैन अ.स. के खिलाफ जंग पूरी क्षमता के साथ जारी है "
आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने कहा कि बहरैन तानाशाही के फरमान से अगर कोई इस से अलग कोई और बात समझता है तो आए और तर्क के साथ बयान करे।

............

लाइक कीजिए
0
फॉलो अस
नवीनतम