×
×
×

सअद हरीरी का दर्द छलका, यूरोप ने हमे धोखा दिया

पश्चिमी देशों ने शर्त लगाई थी कि हरीरी अपने नेतृत्व में ऐसी सरकार का गठन करें जिस में हिज़्बुल्लाह या उस जैसे प्रभावशाली किसी दल की कोई भूमिका न हो ।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार लेबनान में लंबी अवधि गुज़र जाने के बाद भी कैबिनेट गठन में नाकाम रहे लेबनान के पूर्व प्रधानमंत्री सअद हरीरी ने कहा कि उनकी सत्ता में वापसी की कोई योजना है ओर न ही कोई रुचि, यूरोप ने हमे धोखा दिया है तथा लेबनान से किये गए वादे को सिरे से निभाया ही नहीं ।
लेबनान के अपदस्थ प्रधानमंत्री सअद हरीरी ने कहा कि लेबनान को पेरिस सम्मलेन में फ़्रांस और उसके सहयोगी देशों की ओर से अरबों डॉलर मदद की पेशकश की थी जिसके लिए पश्चिमी देशों ने शर्त लगाई थी कि हरीरी अपने नेतृत्व में ऐसी सरकार का गठन करें जिस में हिज़्बुल्लाह या उस जैसे प्रभावशाली किसी दल की कोई भूमिका न हो ।
अब कई महीने के प्रयास के बाद भी सअद हरीरी नई कैबिनेट के गठन में नाकाम रहे हैं तथा अपने पद से इस्तीफ़ा दे चुके हैं और कह रहे हैं कि उन्हें प्रधानमंत्री पद की कोई लालसा नहीं है जबकि वह भलीभांति जानते है कि हिज़्बुल्लाह के बिना लेबनान कैबिनेट का गठन संभव नहीं है ।
.......................








लाइक कीजिए
0
फॉलो अस
नवीनतम