Code : 1776 48 Hit

अरब देशों के विपरीत ईरान हमारा सच्चा सहयोगी, इस्राईल के हाथ में है अमेरिका की बागडोर : हमास

हमास नेता ने खाड़ी के अन्य अरब देशों पर टिप्पणी करते हुए कहा कि उन्होंने ग़ज़्ज़ा के लिए अपने दरवाज़े बंद कर लिए हैं तथा कहते हैं कि ग़ज़्ज़ा की मदद करने के लिए अमेरिका से वार्ता करना होगी।वही अमेरिका जिसकी डोर ज़ायोनी राष्ट्र के हाथ में है जिसके राष्ट्राध्यक्ष ने रियाज़ सम्मलेन में क़ुद्स को अवैध राष्ट्र की राजधानी कहा और किसी ने आपत्ति भी नहीं की ।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार फिलिस्तीन के अग्रणी प्रतिरोधी दल हमास की राजनैतिक शाखा के प्रमुख याह्या अल सिनवार ने ग़ज़्ज़ा के खिलाफ अवैध राष्ट्र के अत्याचारों का उल्लेख करते हुए फिलिस्तीन के प्रति अरब देशों के उदासीन रवैये की आलोचना करते हुए कहा कि हमारे अरब भाई हमे भूल गए हैं उन्होंने ग़ज़्ज़ा वासियों के लिए अपने द्वार बंद कर लिए हैं।
याह्या अल सिनवार ने कहा कि दुश्मन  क्षेत्र में विवाद और युद्ध की आग फैला कर फिलिस्तीन मुद्दे को ठन्डे बास्ते में डालना चाहता है ।
सिनवार ने फिलिस्तीन और ग़ज़्ज़ा के लिए ईरान के प्रभावशाली किरदार की प्रशंसा करते हुए कहा कि ईरान हमे आर्थिक एवं सैन्य सहायता पहुंचता है उसने अपने प्रतिरोध और संघर्ष के तजुर्बों को हमारे साथ साझा किया है वहीँ क़तर के साथ भी हमारे संबंध मधुर हुए हैं उसने ग़ज़्ज़ा को काफी आर्थिक मदद दी है तथा प्रतिरोधी केंद्र को मज़बूत करने के लिए भी हमारा सहयोग करने को तैयार है ।
हमास नेता ने खाड़ी के अन्य अरब देशों पर टिप्पणी करते हुए कहा कि उन्होंने ग़ज़्ज़ा के लिए अपने दरवाज़े बंद कर लिए हैं तथा कहते हैं कि ग़ज़्ज़ा की मदद करने के लिए अमेरिका से वार्ता करना होगी।
वही अमेरिका जिसकी डोर ज़ायोनी राष्ट्र के हाथ में है जिसके राष्ट्राध्यक्ष ने रियाज़ सम्मलेन में क़ुद्स को अवैध राष्ट्र की राजधानी कहा और किसी ने आपत्ति भी नहीं की ।

........................



0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम