×
×
×

आले सऊद से यमन की नाकाबंदी खत्म कराएं बाइडन

सऊदी अरब की ओर से यमन की नाकाबंदी के कारण इस देश में गंभीर मानवीय संकट उत्पन्न हो गया है। यमन खाद्य सामग्री, पेट्रोलियम पेयजल की भारी किल्लत से जूझ रहा है वहीं इस देश में बिजली और परिवहन व्यवस्था ठप होकर रह गयी है।

विलायत पोर्टल : पिछले 6 साल से यमन के खिलाफ आले सऊद ने नेतृत्व वाले अतिक्रमणकारी गठबंधन की बर्बरता जारी है।  सदी के सबसे बिशन मानवीय संकट का सामना कर रहे यमन को आले सऊदी ने अपनी नाकाबंदी में ले रखा है। हालात इतने बुरे हैं कि यमन में न पीने योग्य पानी है न ज़रूरत भर खाना।  देश महामारी , भुखमरी और सऊदी बमबारी का सामना कर रहा है।
यमन के गंभीर हालत को देखते हुए अमेरिकी कांग्रेस के 70 से अधिक सदस्यों ने एक बयान जारी करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन से अपील की है कि वह सऊदी अरब से यमन की नाकाबंदी को खत्म कराएं। अल मयादीन की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी कांग्रेस के 70 से अधिक सदस्यों ने बाइडन से मांग की है कि वह सऊदी अरब नीत गठबंधन की ओर से 2015 से चली आ रही यमन की नाकाबंदी को खत्म करवाएं।
सऊदी अरब की ओर से यमन की नाकाबंदी के कारण इस देश में गंभीर मानवीय संकट उत्पन्न हो गया है। यमन खाद्य सामग्री, पेट्रोलियम पेयजल की भारी किल्लत से जूझ रहा है वहीं इस देश में बिजली और परिवहन व्यवस्था ठप होकर रह गयी है।
अमेरिकी सांसदों ने बाइडन से मांग की कि वह सऊदी अरब पर दबाव बनाने के साथ-साथ सख्त कदम उठायें ताकि सऊदी अरब यमन की नाकाबंदी को तत्काल खत्म करें । बाइडन को सुनिश्चित करना होगा कि वह यमन में मानवताप्रेमी सहायता पहुंचाते हुए सनआ एयरपोर्ट को खुलवाएं और यमन में आम जन जीवन के लिए जरूरी सभी वस्तुओं की आवाजाही सुनिश्चित करें।
अमेरिकी सीनेटरों ने अपने बयान में वर्ल्ड फूड प्रोग्राम की उस रिपोर्ट का भी जिक्र किया जिसमें कहा गया था कि यमन में 5 साल से कम आयु के कम से कम 400000 बच्चे कुपोषण का शिकार हैं। अमेरिकी सीनेटरों ने यमन संकट का राजनीतिक समाधान निकालने का समर्थन करते हुए कहा जितनी जल्दी संभव हो यमन की नाकाबंदी खत्म की जाए।
.................

लाइक कीजिए
0
फॉलो अस
नवीनतम