×
×
×

आयतुल्लाह सीस्तानी की अपील, मज़लूम अफगान जनता को अकेला ना छोड़े विश्व समुदाय और इस्लामी जगत

  इस्लामी देशों और विश्व समुदाय का भी कर्तव्य है कि वह संकट की इस घड़ी में अफगानिस्तान को अकेला ना छोड़े।  विश्व समुदाय और इस्लामी जगत इस देश का बुरा चाहने वालों को यह अवसर ना दें कि वह इस देश के लिए अपनी योजनाओं में सफल हो सके।

विलायत पोर्टल : पश्चिमी काबुल में स्थित सय्यदुश शोहदा स्कूल पर आतंकी हमले में 85 लोगों की शहादत और 100 से अधिक लोगों के घायल होने पर वरिष्ठ शिया धर्मगुरु आयतुल्लाह सीस्तानी ने शोक संदेश जारी करते हुए इस आतंकी हमले की निंदा की है।  आयतुल्लाह सीस्तानी ने अपने बयान में कहा कि माहे मुबारक रमजान में , पश्चिमी काबुल के सय्यदुश शोहदा स्कूल पर हुए इस आतंकी हमले में मासूम छात्राएं और आम नागरिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा जिससे दुनिया भर के इंसानों का दिल दुखी और दर्द में डूब गया।
हालांकि पिछले कई सालों से अफगानिस्तान की आम जनता कट्टरपंथी गुटों के बर्बर हमलों का निशाना बनती रही है लेकिन यह घटना अपने आप में बहुत दुखदाई है।  इस जघन्य घटना पर मैं अफगानिस्तान की मज़लूम जनता और विशेषकर पीड़ित परिवारों से शोक प्रकट करता हूं और खुदा से उनके लिए सब्र और घायल लोगों के लिए शिफा का तलबगार हूं।
आयतुल्लाह सीस्तानी ने अपने बयान में कहा कि वर्तमान स्थिति में जब अफगानिस्तान में एक बार फिर कट्टरपंथी गुटों के शक्तिशाली होकर उभरने की संभावना है मैं सरकार और अफगानिस्तान के राष्ट्रीय एवं धार्मिक नेताओं से अपील करता हूं कि वह आम नागरिकों विशेषकर अल्पसंख्यक समुदाय की सुरक्षा के लिए कोई उपाय करें और इन कट्टरपंथी गुटों से उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करें।  इस्लामी देशों और विश्व समुदाय का भी कर्तव्य है कि वह संकट की इस घड़ी में अफगानिस्तान को अकेला ना छोड़े।  विश्व समुदाय और इस्लामी जगत इस देश का बुरा चाहने वालों को यह अवसर ना दें कि वह इस देश के लिए अपनी योजनाओं में सफल हो सके।
 .................

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम