×
×
×

इस्राईल और अमेरिका इस्लाम के दुश्मन, इन से समझौता उम्मत से निकलने के समान : आयतुल्लाह ईसा क़ासिम

आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने कहा कि अमेरिका और इस्राईल इस्लाम के दुश्मन हैं इन देशों के जितनी नज़दीकी बढ़ेगी इस्लाम से उतना ही दूरी बढ़ती जाएगी। अमेरिका और इस्राईल के खेमे से जुड़ना इस्लाम और दीन से जुदाई का कारण बनेगा।

विलायत पोर्टल : बहरैन की इस्लामी मूवमेंट के नेता तथा वरिष्ठ शिया धर्मगुरु आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने अमेरिका और इस्राईल को इस्लाम का दुश्मन नंबर के बताते हुए कहा कि जो देश भी अवैध राष्ट्र इस्राईल को मान्यता देता है वह ऐसा ही है जैसे इस्लाम से निकल गया हो इस्राईल को मान्यता देना इस्लामी उम्मत से निकलने के समान है।
शैख़ ईसा क़ासिम ने फिलिस्तीन और इस्लामी देशों की ज़मीनों पर इस्राईल के नाजायज़ क़ब्ज़े और मुसलमानों के क़त्ले आम तथा क्षेत्र की जनता के खिलाफ ज़ायोनी शासन के अत्याचारों का उल्लेख करते हुए कहा कि इस्राईल के विरुद्ध संघर्ष करने के लिए यह बातें ही बहुत हैं।
उन्होंने कहा कि इस्राईल से हाथ मिलाने वाले देशों ने वास्तव में खुद को इस्लामी उम्मत और इस्लामी समाज से अलग कर लिया है और इस्लामी जगत और इस्लामी समुदाय की पीठ में खंजर घोंपा है।
आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम ने कहा कि अमेरिका और इस्राईल इस्लाम के दुश्मन हैं इन देशों के जितनी नज़दीकी बढ़ेगी इस्लाम से उतना ही दूरी बढ़ती जाएगी। अमेरिका और इस्राईल के खेमे से जुड़ना इस्लाम और दीन से जुदाई का कारण बनेगा।

...............

लाइक कीजिए
1
फॉलो अस
नवीनतम