×
×
×

आले सऊद ने इमेज चमकाने के लिए खज़ाने का मुंह खोला

एडरॉयस मिस्र समेत मध्य पूर्व के कई देशों के लिए काम कर चुके हैं लेकिन बाइडन प्रशासन में सऊदी अरब और अमेरिका के तनावपूर्ण संबंधों के बीच सऊदी विदेश मंत्रालय की ओर से उनका लॉबिंग करने का निर्णय काफी महत्वपूर्ण है।

विलायत पोर्टल :  सऊदी अरब ने ट्रम्प के सत्ता में आने के बाद अमेरिका में अपनी पोज़िशन मज़बूत करने के लिए सऊदी खज़ाने का मुंह खोल दिया था यहाँ तक कि खुद ट्रम्प सऊदी अरब को दुधारु गाय कहा करते थे।
अब बाइडन के सत्ता  में आने और सऊदी अरब को उनकी ओर से अधिक महत्त्व ने मिलने से चिंतित आले सऊद ने एक बार फिर बाइडन का ध्यान आकर्षित करने के लिए अपने खज़ाने का मुंह खोल दिया है।
रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब सरकार ने अमेरिका के एक पूर्व अधिकारी के साथ करोड़ों डालर का समझौता किया है। आले सऊद ने सऊदी अरब की छवि को चमकाने के लिए इस पूर्व अमेरिकी अधिकारी को सालाना करोड़ों डालर देने का समझौता किया है।
अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी शासन वाशिंगटन में अपनी छवि सुधारने के लिए एक पूर्व अमेरिकी अधिकारी को प्रतिवर्ष प्रोत्साहन एवं वित्तीय पुरस्कार के रुप में करोड़ों डॉलर देगा। अमेरिकी समाचार पत्र पॉलीटिको की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी कांग्रेस के पूर्व प्रतिनिधि एड रॉयस को सऊदी विदेश मंत्रालय में विदेशी प्रतिनिधि के रूप में नियुक्त किया गया है। सऊदी सरकार का यह कदम वाशिंगटन में अपनी बिगड़ती छवि को सुधारने के लिए लॉबिंग प्रयासों के रूप में देखा जा रहा है। इस सप्ताह के शुरू में ही अमेरिकी न्याय विभाग में एक मामला दर्ज कराया गया है जो यह बताने के लिए पर्याप्त है कि एड रॉयस सऊदी अरब का प्रतिनिधित्व करेंगे। इस रिपोर्ट के अनुसार एडरॉयस सऊदी अरब की ओर से अमेरिका की संघीय सरकार के अधिकारियों के साथ बातचीत को आसान बनाएंगे। एडरॉयस 2013 से 2019 तक अमेरिकी कांग्रेस की फॉरेन अफेयर्स कमेटी के अध्यक्ष के रूप में काम कर चुके हैं। उन्हें वाशिंगटन में लगभग तीन दशक तक काम करने का अनुभव है। एडरॉयस मिस्र समेत मध्य पूर्व के कई देशों के लिए काम कर चुके हैं लेकिन बाइडन प्रशासन में सऊदी अरब और अमेरिका के तनावपूर्ण संबंधों के बीच सऊदी विदेश मंत्रालय की ओर से उनका लॉबिंग करने का निर्णय काफी महत्वपूर्ण है।
......................


लाइक कीजिए
0
फॉलो अस
नवीनतम