Code : 1657 208 Hit

दाइश के आतंकवादियों को सीरिया से इराक़ पहुंचाने की कोशिश में अमेरिका

इराक़ी मामलों के विशेषज्ञ " हाफिज़ आल बशारा" का कहना है कि वर्तमान समय में अमरीका यह कोशिश कर रहा है कि सीरिया में मौजूद 3 हज़ार दाइश आतंकवादियों को इराक लाकर किसी सुरक्षित जगह में रख दे और अमरीकियों ने इसके लिए इराक़ में 3 क्षेत्रों को निर्धारित किया है।

विलायत पोर्टल: इराक़ी मामलों के विशेषज्ञ " हाफिज़ आल बशारा" ने इराक़ में अमरीकी सेना की संदिग्ध गतिविधियों की ओर से सचेत किया है।

अलबशारा ने इराक़ की " अलमालूमा" वेब साइट से एक वार्ता में कहा है कि अमरीका ने पहले तो आतंकवादी संगठन " दाइश " को बनाया और फिर इन्ही आतंकवादियों से मुक़ाबले के लिए अंतरराष्ट्रीय गठबंधन भी बनाया और अब इसी संगठन की मदद के लिए फिर से मैदान में है।

उनका कहना है कि वर्तमान समय में अमरीका यह कोशिश कर रहा है कि सीरिया में मौजूद 3 हज़ार दाइश आतंकवादियों को इराक लाकर किसी सुरक्षित जगह में रख दे और अमरीकियों ने इसके लिए इराक़ में 3 क्षेत्रों को निर्धारित किया है।

उन्होंने बताया कि पहला इलाक़ा, सीरिया के बूकमाल और इराक़ के क़ायम नगरों के बीच का क्षेत्र है। दूसरी जगह जहां अमरीका दाइश के आतंकवादियों को रखना चाहता है वह एनुलअसद छावनी है और तीसरी जगह इराक़ी कुर्दिस्तान में एक अमरीकी छावनी है।

पिछले महीने भी इराक़ी सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इराक़ के केन्द्रीय क्षेत्र किरकूक में आतंकवादी संगठन दाइश को प्राप्त अमरीकी मदद का उल्लेख करते हुए बताया था कि इराक़ी सेना के बटालियन 14 की छावनी में मौजूद अमरीकी सैन्य अधिकारियों ने कहा था कि इराक़ी सैनिक, " मकहूल" पहाड़ियों में छिपे दाइश के आतंकवादियों पर बम्मारी न करें।

इस सूत्र ने बताया कि अमरीकी सैनिकों ने इसी प्रकार इराक़ी सेना से कहा था कि इस पहाड़ी इलाक़े या उसके आस पास के इलाक़ों में इराक़ी सेना कोई भी सैन्य अभियान नहीं कर सकती और न ही इस इलाक़े में दाइश के सदस्यों को निशाना बना सकती है। 

इराक़ी सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इराक़ी सेना, " मकहूल" में मौजूद दाइश के आतंकवादियों से कुछ ही दूर पर मौजूद थी किंतु वह आज़ादी के साथ इस इलाक़े में घूमते फिरते हैं क्योंकि उन्हें पूरा विश्वास है कि इराक़ी सेना उन पर बमबारी नहीं कर सकती क्योंकि उन्हें अमरीकी सैनिकों का समर्थन प्राप्त है और वह सैनिक इसी इलाक़े में मौजूद हैं।

इराक़ और सीरिया में अमरीकी सैनिकों द्वारा दाइश के आतंकवादियों की मदद की बात पहले भी सामने आ चुकी है यहां तक कि इराक़ के " अलबद्र" संगठन के कार्यालय के प्रमुख ने कुछ दिनों पहले कहा था कि अमरीकी सैनिक, पश्चिमी इराक़ में दाइश के आतंकवादियों के लिए " सुरक्षित मार्ग" बनाने के प्रयास में हैं।

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम