Code : 1642 193 Hit

अमरीका की दुश्मनी से आईआरजीसी का सम्मान बढ़ाः आयतुल्लाह ख़ामेनई

इस्लामी क्रान्ति के सुप्रीम लीडर ने कहाः अमरीकियों की आईआरजीसी से ख़तरनाक दुश्मनी से आईआरजीसी का सम्मान बढ़ा क्योंकि अल्लाह के दुश्मनों की दुश्मनी से नेक बंदों का सम्मान बढ़ता है।

विलायत पोर्टल: सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई ने रविवार को तेहरान में आईआरजीसी के इमाम हुसैन कैडिट कॉलेज के स्नातक समारोह को संबोधित करते हुए कहाः अमरीकियों के इस्लामी क्रान्ति संरक्षक बल आईआरजीसी के ख़िलाफ़ दुश्मनी भरे रवैये से, आईआरजीसी का सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि ईश्वर की कृपा से आईआरजीसी का देश और विदेश दोनों जगह सम्मान है।
उन्होंने कहा कि ईरानी राष्ट्र इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के आंदोलन के आधार पर नास्तिकता, ज़ायोनीवाद और अमरीका के मोर्चे से मुक़ाबले को अपना कर्तव्य मानता है। इसी तरह उन्होंने कहा कि अमरीका से समझौता न करने का आधार यही आंदोलन है।
इस्लामी क्रान्ति के सुप्रीम लीडर ने अपने भाषण में कहाः अमरीकियों की आईआरजीसी से ख़तरनाक दुश्मनी से आईआरजीसी का सम्मान बढ़ा क्योंकि अल्लाह के दुश्मनों की दुश्मनी से नेक बंदों का सम्मान बढ़ता है।
ग़ौरतलब है कि अमरीका ने अप्रैल में आईआरजीसी को आतंकवादी संगठन घोषित किया था जो वॉशिंग्टन की तरफ़ से पहली बार किसी राष्ट्र की सेना को आतंकवादी गुट की संज्ञा दी गयी।
ईरान ने भी अमरीका के इस क़दम के जवाब में अमरीका की सेन्ट्रल कमान को आतंकवादी संगठन की संज्ञा दी।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम