Code : 1439 494 Hit

सुप्रीम लीडर का अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के संदेश को अस्वीकार करने का जवाब और फ़ैसला एतिहासिक और महान हैः शेख नईम क़ासिम

हिज़्बुल्लाह के उप महासचिव ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के संदेश को अस्वीकार करने के सुप्रीम लीडर के रुख को एतिहासिक और महान बताया है।

विलायत पोर्टलः हिज़्बुल्लाह के उप महासचिव  शेख नईम क़ासम ने दक्षिणी लेबनान में एक कार्यक्रम में कहा कि इस्लामी क्रांति के सुप्रीम लीडर ने ठोस रूप से कहा कि दबाव के अंतर्गत वार्ता, अस्वीकारीय है और अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, प्रस्ताव देने के योग्य नहीं हैं क्योंकि वह अपने समझौतों और प्रस्तावों का उल्लंघन करते हैं।

उन्होंने बल दिया कि अमरीका का वर्चस्ववाद पूरे विश्व में संकट का कारण है और यह संकट, केवल प्रतिरोध मोर्चे और मुसलमानों तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि विश्व के बहुत से देश इन संकटों में ग्रस्त हैं।

याद रहे इस्लामी क्रांति के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई ने गुरुवार को जापान के प्रधानमंत्री शेन्ज़ो आबे से भेंट में बल दिया कि इस्लामी गणतंत्र ईरान, अमरीका पर बिल्कुल भरोसा नहीं करता क्योंकि कोई भी स्वतंत्र व बुद्धिमान राष्ट्र, दबाव में वार्ता स्वीकार नहीं कर सकता।

सुप्रीम लीडर ने कहा कि मैं ट्रम्प को, किसी भी प्रकार के संदेश के आदान- प्रदान के योग्य नहीं समझता और उनके संदेश का कोई जवाब नहीं देने जा रहा  और न ही कभी दूंगा।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम