Code : 879 38 Hit

सऊदी वहाबियत और दाइश का अपसी संबंध

अमेरिका के समाचार पत्र हाफ़िंगटोन पोस्ट ने वहाबियत और दाइश के संबंध के बारे में इस प्रकार लिखा कि, अब यह स्पष्ट हो चुका है कि सऊदी के बादशाह विभाजित हो चुके हैं, कुछ ने दाइश के शिया हुकूमत के विरुध्द जंग की पुष्टि करते हुए सही ठहराया और इसको शिया और सुन्नी के बीच जंग का नाम दिया है।

विलायत पोर्टलः दाइश के इराक़ में इतने प्रभावशाली तरीक़े से ज़ाहिर होने से पूरा यूरोप हैरानी पड़ गया था, दाइश की हिंसा और और उसके आकर्षण ने सभी को हैरानी और दहशत में डाल रखा था, लेकिन सब से बढ़कर यह कि इस बात में कोई शक नहीं कि यह संगठन ख़ुद सऊदी के लिए बहुत बड़ी समस्या खड़ी करेगा, क्या ख़ुद सऊदी इस बात की ओर ध्यान नहीं दे रहा कि दाइश उन्हें भी चुनौती दे रहा है।
अमेरिका के समाचार पत्र हाफ़िंगटोन पोस्ट ने वहाबियत और दाइश के संबंध के बारे में इस प्रकार लिखा कि, अब यह स्पष्ट हो चुका है कि सऊदी के बादशाह विभाजित हो चुके हैं, कुछ ने दाइश के शिया हुकूमत के विरुध्द जंग की पुष्टि करते हुए सही ठहराया और इसको शिया और सुन्नी के बीच जंग का नाम दिया है।
लेकिन सभी सऊदी बादशाह दाइश से इस हद तक डरे हुए हैं कि उन्हें एख़वान संगठन का अब्दुल अज़ीज़ के विरुध्द विद्रोह याद आ रहा है, वह ऐसा विद्रोह था जिसमें 1920 ईस्वी में वहाबियत और आले सऊद बिखरने के क़रीब आ गए थे।
सऊदी हाकिमों के बीच दाइश के उग्रवादी सिध्दांतों को ल्कर चिंता बनी हुई है, और धीरे धीरे उनकी ज़बानों पर दाइश के पालन पोषण और उनके तेज़ी से फैलने को लेकर सवाल आ चुके हैं।



0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम