Code : 1458 34 Hit

सऊदी अरब ने कम आयु वाले बेगुनाह बालक को फाँसी के बदले सुनाई 12 साल कारावास की सज़ा

सऊदी अरब में सबसे कम आयु के बेगुनाह मासूम बालक को 12 साल कारावास का दंड दिया गया है।

विलायत पोर्टलः सीएनएनए की रिपोर्ट के अनुसार आले सऊद ने अपने फ़ैसले से पीछे हटते हुए मुर्तजा क़ुरैरिस को, जिन्हें तेरह साल की उम्र में पांच साल पहले गिरफ़्तार किया गया था और जिन्हें मौत की सज़ा सुना दी गई थी, बारह साल जेल की सज़ा सुनाई है। क़ुरैरिस परआरोप है कि उन्होंने वर्ष 2011 में दस साल की उम्र में पूर्वी सऊदी अरब के अवामिया शहर में होने वाले एक सरकार विरोधी प्रदर्शन में भाग लिया था।

सोशल मीडियाकर्मियों के अनुसार सऊदी अरब में राजनैतिक बंदियों की संख्या ढाई हज़ार से अधिक हो चुकी है। इस देश के युवराज मुहम्मद बिन सलमान के सत्ता में आने के बाद से हज़ारों पत्रकारों, धर्मगुरुओं, सोशल मीडिया कर्मियों, आर्थिक विशेषज्ञों और विश्वविद्यालयों के प्रोफ़ेसरों कोअपने विचारों की अभिव्यक्ति और आले सऊद शासन की नीतियों के विरोध के आरोप में गिरफ़्तार करके जेलों में डाल दिया गया है।इसकी विश्व स्तर पर सरकारी और ग़ैर सरकारी संस्थाओं ने कड़ी आलोचना की है। जारी वर्ष के अप्रैल महीने में ही सऊदी अरब की सरकार ने देश के 37 नागरिकों की गर्दन उड़ा कर उन्हें मौत की सज़ा दी थी।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम