Code : 1426 71 Hit

मनामा सम्मेलन में अगर फ़िलिस्तीन भाग नहीं लेता तो लेबनान भी भाग नहीं लेगाः लेबनान

लेबनान ने "द डील ऑफ़ द सेन्चरी" नामक समझौते का फ़िलिस्तीनियों द्वारा बहिष्कार का समर्थन किया है।

विलायत पोर्टलः लेबनान के विदेश मंत्री जिब्रान बासिल ने कहा है कि उनका देश अमरीका की अगुवाई में बहरैन में प्रस्तावित आगामी सम्मेलन का बहिष्कार कर रहा है जिसका लक्ष्य अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प की इस्राईली शासन और फ़िलिस्तीनियों के बीच "द डील ऑफ़ द सेन्चरी" नामक विवादास्पद शांति योजना के प्रति समर्थन जुटाना है। लेबनान के विदेश मंत्री ने कहा कि उनका देश इसलिए इस सम्मेलन में भाग नहीं ले रहा है क्योंकि फ़िलिस्तीनी इस सम्मेलन में भाग नहीं ले रहे हैं।

जिब्रान बासिल ने गुरुवार को कहाः "हम बहरैन सम्मेलन में भाग नहीं लेंगे, क्योंकि इस सम्मेलन में फ़िलिस्तीनी भाग नहीं ले रहे हैं और हम इस प्रस्तावित शांति योजना के बारे में साफ़ तौर पर जानना चाहते हैं। हमसे इस योजना के बारे में संपर्क नहीं किया गया।"

लेबनानी विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय आया है जब वाइट हाउस के एक वरिष्ठ सूत्र का कहना है कि जॉर्डन, मिस्र और मोरक्को ने अमरीकी प्रशासन को सूचित किया है कि वे अपने अपने प्रतिनिधि मनामा भेजेंगे।"

संयुक्त अरब इमारात, क़तर और सऊदी अरब ने मई में एलान किया कि वे इस सम्मेलन में भाग लेंगे।

फ़िलिस्तीन आज़ादी संगठन पीएलओ और इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास ने अरब देशों से बहरैन में प्रस्तावित सम्मेलन का बहिष्कार करने की अपील की है। इस सम्मेलन के आयोजन की तारीख़ 25-26 जून है।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम