Code : 1196 16 Hit

ख़ाशुक़जी हत्याकाण्ड में लिप्त आरोपियों पर मुक़द्दमा चलाने का सऊदी अरब का दावा झूठा

सऊदी अरब के सरकार विरोधी पत्रकार की हत्या के आरोपियों के ख़िलाफ़ न्यायपूर्ण ढंग से मुक़द्दमा चलाने के दावे की पोल सोशल मीडिया के माध्यम से खुल गई है।

विलायत पोर्टलः सोशल मीडिया कर्मियों ने जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या के आरोपी और सऊदी अरब के पूर्व ख़ूफ़िया चीफ़ अहमद अलअसीरी की एक तस्वीर पोस्ट करके कहा है कि यह चित्र सऊदी शासकों के झूठ की पोल खोल देता है। तस्वीर में अहमद अलअसीरी पारंपरिक वस्त्र में अपने भतीजे उमर असीरी के साथ घर के अंदर दिखाई दे रहे हैं। उमर ने कैडिट कॉलेज में पास होने के अवसर पर फ़ौजी वर्दी पहन रखी है। इस चित्र के कारण सोशल मीडिया पर काफ़ी वाद-विवादहो रहा है। विशेष कर इस लिए कि सऊदी अधिकारियों ने बारम्बार दावा किया है कि जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या में लिप्त सभी आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है।

डेली मेल के अनुसार सऊदी अरब के अटॉर्नी जनरल ने बताया है कि अहमद असीरी ने ख़ाशुक़जी की हत्या के मामले का संचालन किया था और शाही न्यायालय के प्रेस प्रभारीसऊद क़हतानी ने उन्हें परामर्श दिया था। ये दोनों ही आरोपी सऊदी अरब के युवराज मुहम्मद बिन सलमान के निकटवर्ती माने जाते हैं। 

पारस टुडे


0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम