Code : 1417 36 Hit

इन्सटैक्स, ईरान के तेल उत्पाद पर लगी पाबंदी से निपटने का स्रोत बन सकता है

रूस ने कहा है कि परमाणु समझौते जेसीपीओए को बचाने का एक रास्ता यह है कि इन्सटेक्स नामक वित्तीय तंत्र को लागू कर ईरान के तेल उत्पाद को बेचने पर लगी पाबंदी से निपटा जाए।

विलायत पोर्टलः रूस के उपविदेश मंत्री सिर्गेई रियाबकोफ़ ने मॉस्को में एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भाषण के दौरान बल देकर कहाः "अमरीकी अधिकारी खुल्लम खुल्ला कह रहे हैं कि वह इस्लामी गणतंत्र के ख़िलाफ़ कठोर पाबंदियों के ज़रिए तेहरान पर ज़्यादा से ज़्यादा दबाव डालना चाहते हैं, जबकि रूस अमरीका की इस नीति को स्वीकार नहीं करता।"

सिर्गेई रियाबकोफ़ ने कहाः जेसीपीओए को बचाने के लिए अभी वक़्त है और इस संबंध में कई विकल्प मौजूद हैं जिनमें से एक इन्सटैक्स नामक वित्तीय तंत्र को जल्द से जल्द लागू करना है। जैसा कि ईरानी अधिकारी काफ़ी समय से इसकी मांग कर रहे हैं और हमने भी उनके और अपने योरोपीय घटकों के साथ इस बारे में विचार विमर्श किया।

रूसी अधिकारी ने कहाः "इन्सटैक्स से परमाणु समझौते के तहत क़ानूनी तरीक़े से वित्तीय लेन-देन को सुचारू बनाने के लिए योरोप और ईरान के साथ साथ तीसरे पक्ष की भागीदारी की संभावना मुहैया हो। इसी तरह इन्सटैक्स खाद्य पदार्थ, दवाओं और चिकित्सा उपकरण जैसी वस्तुओं के लेन-देन के साथ साथ ईरान के तेल के उत्पाद को बेचने का भी मार्ग प्रशस्त करे कि जिसके ख़िलाफ़ अमरीका ने ग़ैर क़ानूनी पाबंदी लगा दी है।"

ग़ौरतलब है कि जर्मनी, फ़्रांस और ब्रिटेन ने 31 जनवरी 2019 को इन्सटैक्स नामक वित्तीय तंत्र का एलान किया लेकिन अभी तक यह तंत्र लागू नहीं हो सका है।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम