Code : 1255 26 Hit

अमेरिकी सीआईए एजेंट निकला वेनेज़ुएला में असफल विद्रोह का मास्टर माइंड

वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने कहा है कि उनके देश में हुए असफल विद्रोह के मास्टरमाइंड की पता लग चुका है। उन्होंने कहा कि विद्रोह की कोशिश के पीछे वेनेज़ुएला में मौजूद एक अमेरिकी सीआईए एजेंट था।

विलायत पोर्टलः  प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादूरो ने कहा है कि पिछले दिनों उनके देश में हुए असफल विद्रोह की साज़िश के पीछे वेनेज़ुएला की ख़ुफ़िया एजेंसी के पूर्व प्रमुख जनरल “मानोएल रिकार्डो क्रिस्टोफ़र फ़िगोरा” ने अमेरिका की ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए के एजेंट के तौर पर काम किया था। मादूरो ने कहा कि अब फ़िगोरा के चेहरे पर पड़ी नक़ाब उतर चुकी है और पूरा देश जान चुका है कि वेनेज़ुएला में हुए विद्रोह के पीछे मास्टर माइंड कौन था? निकोलस मादूरो ने कहा कि उनके पास ऐसे साक्ष्य मौजूद हैं जिनसे यह सिद्ध होता है कि सीआईए ने एक वर्ष पहले ही जनरल “मानोएल रिकार्डो क्रिस्टोफ़र फ़िगोरा” को अपना एजेंट बना लिया था।

वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति ने कहा कि जांचकर्ता टीम अपनी जांच में इस परिणाम पर पहुंची है कि देश की ख़ुफ़िया एजेंसी के पूर्व प्रमुख जनरल “मानोएल रिकार्डो क्रिस्टोफ़र फ़िगोरा”पिछले दिनों देश में हुए असफल विद्रोह के मास्टर माइंड थे और उन्होंने यह सब वॉशिंग्टन के कहने पर ही किया था। वेनेज़ुएला में विद्रोह के विफल हो जाने के बाद विपक्ष के नेता ख़्वान गाइडो ने अमेरिकी समाचार पत्र वॉशिंग्टन पोस्ट से अपने एक इंटरव्यू में इस बात को स्वीकार किया था कि सेना की मादूरो से वफ़ादारी के कारण वेनेज़ुएला में विद्रोह नाकाम हो गया।

ज्ञात रहे कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश वेनेज़ुएला में राजनीतिक विरोधियों की मदद करके इस देश में राजनीतिक संकट पैदा करना चाहते थे ताकि इस देश के क़ानूनी राष्ट्रपति निकोलस मादूरो को उनके पद से हटा सकें और अपने पसंदीदा व्यक्ति को वेनेज़ुएला का राष्ट्रपति बना सकें।

पारस टुडे

0
शेयर कीजिए
फॉलो अस
नवीनतम