Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 82907
Date of publication : 6/9/2015 19:37
Hit : 210

इस्राईल के ख़िलाफ़ यूरोपीय संघ जल्द करेगा कार्यवाही।

यूरोपीय संघ जल्द ही इस बात का फ़ैसला करने वाला है कि अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों में इस्राईल की अवैध कॉलोनियों में बने उत्पादों पर लेबल लगा हो।


विलायत पोर्टलः यूरोपीय संघ जल्द ही इस बात का फ़ैसला करने वाला है कि अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों में इस्राईल की अवैध कॉलोनियों में बने उत्पादों पर लेबल लगा हो। यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रभारी फ़ेडरिका मोगरीनी ने शनिवार को लक्ज़म्बर्ग में यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद कहा, “यह काम जल्दी ही ख़त्म होने वाला है।” ज्ञात रहे कुछ यूरोपीय देशों ने अपने उपभोक्ताओं को इस्राइली कॉलोनियों से आयात की गई वस्तुओं के स्रोत के बारे में मार्गदर्शन करने का फ़ैसला कर लिया है क्योंकि ज़्यादातर देश अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों में बनी कॉलोनियों को अवैध मानते हैं। यूरोपीय आयोग की तरफ़ से फ़ैसला लिए जाने के बाद, यह संस्था सभी 28 सदस्य देशों को ये निर्देश देगी। फ़ेडरिका मोगरीनी का यह बयान ऐसे समय आया है कि अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों में इस्राईल की अवैध कॉलोनियों के जारी निर्माण पर यूरोपीय संघ के सदस्य देशों में ग़स्से की लहर दौड़ रही है। अप्रैल में यूरोपीय संघ के 16 सदस्यीय देशों ने मोगरीनी को एक ख़त लिख कर उनसे इस्राइली उत्पादों पर लेबल लगने की प्रक्रिया में तेज़ी लाने की मांग की थी। इस ख़त पर फ़्रांस, ब्रिटेन, स्पेन, इटली, बेल्जियम, स्वीडन, माल्टा, ऑस्ट्रिया, आयरलैंड, पुर्तगाल, स्लोवेनिया, हंग्री, फ़िनलैंड, डेनमार्क, नेदरलैंड और लक्ज़म्बर्ग के विदेश मंत्रियों ने दस्तख़त किए हैं। यूरोपीय संघ के मौजूदा अध्यक्ष देश लक्ज़म्बर्ग के विदेश मंत्री जीन असेलबॉर्न ने कहा, “हम इस बात को सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ग्राहक, इस्राईल द्वारा अतिग्रहित इलाक़ों से भेजे जाने वाले उत्पादों में अंतर कर सकें।” उन्होंने कहा कि इस साल के आख़िर तक इसका हल निकल आने की उम्मीद है। ज्ञात रहे इस्राईल अंतर्राष्ट्रीय अपील की अनदेखी करते हुए पिछले कई साल से अतिग्रहित इलाक़ों में अवैध कॉलोनियों का निर्माण बढ़ाता जा रहा है।
................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

बर्नी सैंडर्स की मांग, सऊदी तानाशाही की नकेल कसे विश्व समुदाय । ईरान विरोधी बैठकों से कुछ हासिल नहीं, यादगारी तस्वीरें लेते रहे नेतन्याहू । हसन नसरुल्लाह का लाइव इंटरव्यू होगा प्रसारित,सऊदी इस्राईली मीडिया की हवा निकली । आले ख़लीफ़ा का यूटर्न , कभी भी दमिश्क़ विरोधी नहीं था बहरैन इदलिब , नुस्राह फ्रंट के ठिकानों पर रूस की भीषण बमबारी । हश्दुश शअबी की कड़ी चेतावनी, आग से न खेले तल अवीव,इस्राईल की ईंट से ईंट बजा देंगे । दमिश्क़ पर फिर हमला, ईरानी हित थे निशाने पर, जौलान हाइट्स पर सीरिया ने की जवाबी कार्रवाई । नहीं सुधर रहा इस्राईल, दमिश्क़ के उपनगरों पर फिर किया हमला। अमेरिका में गहराता शटडाउन संकट, लोगों को बेचना पड़ रहा है घर का सामान । हसन नसरुल्लाह ने इस्राईली मीडिया को खिलौना बना दिया, हिज़्बुल्लाह की स्ट्रैटजी के आगे ज़ायोनी मीडिया फेल । रूस और ईरान के दुश्मन आईएसआईएस को मिटाना ग़लत क़दम होगा : ट्रम्प फ़िलिस्तीनी जनता के ख़ून से रंगे हैं हॉलीवुड सितारों के हाथ इदलिब और हलब में युद्ध की आहट, सीरियन टाइगर अपनी विशेष फोर्स के साथ मोर्चे पर पहुंचे । देश छोड़ कर भाग रहे हैं सऊदी नागरिक , शरण मांगने वालों के संख्या में 318% बढ़ोत्तरी । इराक सेना अलर्ट पर किसी भी समय सीरिया में छेड़ सकती है सैन्य अभियान ।