Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 82051
Date of publication : 3/9/2015 18:50
Hit : 252

चरमपंथ के विरुद्ध ईरान की भूमिका अत्याधिक महत्वपूर्णः हसन नसरुल्लाह

लेबनान के हिज़्बुल्लाह आंदोलन के महासचिव ने आतंकवाद और चरमपंथ के विरुद्ध ईरान की भूमिका अत्याधिक महत्वपूर्ण बताते हुए दुनिया की सभी सरकारों का तकफीरी आतंकवाद के विरुद्ध संघर्ष और शांति के समर्थन का आह्वान किया है।


विलायत पोर्टलः लेबनान के हिज़्बुल्लाह आंदोलन के महासचिव ने आतंकवाद और चरमपंथ के विरुद्ध ईरान की भूमिका अत्याधिक महत्वपूर्ण बताते हुए दुनिया की सभी सरकारों का तकफीरी आतंकवाद के विरुद्ध संघर्ष और शांति के समर्थन का आह्वान किया है। सैयद हसन नसरुल्लाह ने लेबनान की यात्रा पर गए ईरान के विदेश सचिव अमीर अब्दुल्लाहियान से हालिया में मुलाक़ात में यह बात कही। सैयद हसन नसरुल्लाह ने परमाणु तकनीक प्राप्त करने और परमाणु सहमति के लिए ईरान को पुनः बधाई दी। सैयद हसन नसरुल्लाह ने क्षेत्र में ज़ायोनी शासन की विध्वंसक भूमिका का उल्लेख करते हुए कहा कि इस अतिग्रहणकारी शासन से मुक़ाबले का एकमात्र मार्ग प्रतिरोध है। इस मुलाक़ात बातचीत में अमीर अब्दुल्लाहियान ने बल देते हुए कहा कि ईरान, लेबनान और क्षेत्र में शांति स्थापना और लेबनान की अखंडता पर ज़ोर देता है। ईरान के विदेश सचिव ने इस बात पर बल देते हुए कि विदेशियों के हस्तक्षेप से क्षेत्र को विभिन्न समस्याओं का सामना है कहा कि क्षेत्र की सभी सरकारों के लिए इस्राईली साज़िशों की तरफ़ से सचेत रहने की ज़रूरत है और क्षेत्रीय देशों को, कुछ पक्षों की लापरवाही की वजह से युद्ध, चरमपंथ और आतंकवाद की आग में नहीं जलना चाहिए।
................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हश्दुश शअबी का आरोप , आईएसआईएस को इराकी बलों की गोपनीय जानकारी पहुंचाता था अमेरिका ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी