Thursday - 2018 August 16
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 76888
Date of publication : 12/6/2015 10:29
Hit : 374

ओबामा ने 450 सैनिकों को इराक़ भेजने का किया इरादा

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 450 और अमेरिकी सैनिकों के इराक भेजने पर सहमति जताई है।

विलायत पोर्टलः अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 450 और अमेरिकी सैनिकों के इराक भेजने पर सहमति जताई है। वाइट हाउस ने बुधवार को एक रिलीज़ जारी करके इस बात की सूचना दी। साथ ही वाइट हाउस ने दावा किया है कि आतंकवादी गुट आईएसआईएल से मुकाबले के लिए इराक सरकार की मांग पर एसा किया गया है। वाइट हाउस की ओर से जारी होने वाली रिलीज़ में आया है कि अमेरिकी सैनिक इराक़ी सेना और सुन्नी क़बीलों के संघर्षकर्ताओं को ट्रेनिंग देंगे। वाइट हाउस ने इसी तरह बगदाद सरकार के हवाले से कबायली संघर्षकर्ताओं और पीशमर्गा को आवश्यक हथियार देने की भी ख़बर दी है। ज्ञात रहे कि आतंकवादी गुट आईएसआईएल से मुकाबले में सहायता देने के बहाने तीन हज़ार से अधिक अमेरिकी सैनिक इराक में मौजूद हैं। प्रतीत यह हो रहा है कि इराक और सीरिया में आतंकवादी गुट आईएसआईएल के ठिकानों पर हवाई हमलों के बावजूद बराक ओबामा का ध्यान इस वास्तविकता की ओर गया है कि आईएसआईएल के ठिकानों पर हवाई हमलों का कोई ख़ास फ़ायदा नहीं है। यह एसी स्थिति में है जब अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष ने कहा है कि आईएसआईएल को हराने के लिए इराक़ी सैनिकों को ट्रेनिंग देने के मक़सद से सिर्फ़ अमेरिकी सैनिकों का भेजा जाना काफी नहीं है। साथ ही जान बेनर ने कहा कि अमेरिकी सैनिकों को इराक़ भेजने की योजना सही है लेकिन आईएसआईएल को हराने के लिए यह स्ट्रैटिजिक काफी नहीं है और ये बात साफ़ है कि ट्रेनिंग देने की कार्यवाही अकेले काफी नहीं है। अमेरिकी समाचार पत्र न्यूयार्क टाइम्स ने मंगलवार के अपने प्वाइंट में लिखा कि वाशिंग्टन आईएसआईएल से रोमादी नगर को वापस लेने के लिए इराक में एक सैनिक छावनी बनायेगा ताकि इराक में अमेरिकी सैनिक छावनी की संख्या पांच हो जाये।
................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :