Thursday - 2018 Oct 18
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 76684
Date of publication : 7/6/2015 21:4
Hit : 412

पूरी दुनियाँ में इस्राईल के बढ़ते बाईकाट से अमेरिका चिंतित।

दुनिया भर में इस्राईल के बढ़ते बहिष्कार से चिंतित अमरीका में रहने वाले ज़ायोनी प्रभावशाली उद्योगपति हैम सबान और शेल्डन अडेल्सन ने उन लोगों के ख़िलाफ़ कार्यवाही करने की धमकी दी है जो इस्राईल का बहिष्कार कर रहे हैं।

विलायत पोर्टलः दुनिया भर में इस्राईल के बढ़ते बहिष्कार से चिंतित अमरीका में रहने वाले ज़ायोनी प्रभावशाली उद्योगपति हैम सबान और शेल्डन अडेल्सन ने उन लोगों के ख़िलाफ़ कार्यवाही करने की धमकी दी है जो इस्राईल का बहिष्कार कर रहे हैं। हैम सबान और शेल्डन अडेल्सन ने इस संदर्भ में फ़िलहाल अपना ध्यान अमरीका में केन्द्रित करने का फ़ैसला किया है। इस्राईल की फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ नस्लभेदी नीतियों की वजह से उसके ख़िलाफ़ बहिष्कार, प्रतिबंध और विनिवेश नाम का अभियान बी डी एस हालिया महीनों में पूरी दुनिया में तेज़ी पकड़ता जा रहा है। इस हफ़्ते फ़्रांसीसी दूरसंचार बहुराष्ट्रीय कंपनी औरेंज ने इस्राइली बाज़ारों से अपना उत्पाद निकालने का एलान किया है। औरेंज के इस फ़ैसले की प्रतिक्रिया में मीडिया मोगल हैम सबान ने शनिवार को औरेंज के ख़िलाफ़ इतनी सख़्त लड़ाई लड़ने का एलान किया है ताकि इस्राईल का बहिष्कार करने के बारे में सोच रहीं कंपनियां अपने फ़ैसले पर पुनर्विचार करने पर मजबूर हो जाएं। वैसे मीडिया मोगल सबान के इस बयान से कि “हमारी ओर यहूदी विरोधी सुनामी बढ़ रही है”, बी डी एस अभियान के असर को बड़ी आसानी से समझा जा सकता है। सबान उद्योगपति शेल्डन अडेल्सन के साथ संयुक्त रूप से एक इस्राइली चैनल को इंटर्व्यू दे रहे थे। अडेल्सन ने कहा कि इस्राईल के ख़िलाफ़ तेज़ी से फैल रहे बी डी एस अभियान को सबसे पहले अमरीका में निशाना बनाएंगे जो इस्राईल की तरफ से दंडित होगा। अमरीका में इस्राईल के समर्थकों का कहना है कि फ़िलिस्तीनी जनता के ख़िलाफ़ इस्राईल के ज़ुल्म और अत्याचार की वजह से उसका अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बहिष्कार, इस समय तेल अबिब के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। अनेक युरोपीय कंपनियों ने भी अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी ज़मीनों पर नाजायज़ बस्तियों के निर्माण की वजह से इस्राईल का बॉइकाट किया है। यूरोप की दो सबसे बड़ी वित्तीय संस्थांए भी उन इस्राइली कंपनियों के साथ लेन-देन ख़त्म कर दिया है जो अतिग्रहित भूमि पर अवैध बस्तियों के निर्माण में लिप्त थीं। यूरोपीय संघ ने भी अतिग्रहित फ़िलिस्तीनी भूमि में बनी बस्तियों में मौजूद हर कंपनी की ग्रैंट और निधिकरण बंद कर दिया है। अमरीकन स्टडीज़ असोसिएशन ने भी फ़िलिस्तीनियों के साथ इस्राईल की नस्लभेदी नीतियों की वजह से उसके अकैडमिक बहिष्कार का एलान किया है। ज्ञात रहे पिछले रविवार को ज़ायोनी प्रधान मंत्री नेतनयाहू ने इस्राईल के विरुद्ध दुनिया भर में तेज़ी से फैल रहे बी डी एस अभियान के प्रभाव की बात क़ुबूल की है। इस्राइली अधिकारी बहिष्कार से निपटने के लिए स्ट्रेटिजी तैय्यार करने के सिलसिले से कई बार बैठकें कर चुके हैं। वैसे इस्राईल को वजूद देने वाले ब्रिटेन में भी इस्राईल के ख़िलाफ़ जनाक्रोश तेज़ी से फैल रहा है। जिससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि आने वाले दिनों में इस्राईल का भविष्य क्या होगा।
................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :