Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 73041
Date of publication : 15/4/2015 18:59
Hit : 469

रूस का एस 300 मिसाइल सिस्टम ईरान को देने का ऐलान।

रूस का एस 300 मिसाइल सिस्टम ईरान को देने का ऐलान।

रान के परमाणु वार्ता में व्यापक समझौते के लिए पहला कदम उठाए जाने के बाद रूस ने ईरान को एस 300 मिसाइल प्रणाली देने का ऐलान किया है


विलायत पोर्टलः ईरान के परमाणु वार्ता में व्यापक समझौते के लिए पहला कदम उठाए जाने के बाद रूस ने ईरान को एस 300 मिसाइल प्रणाली देने का ऐलान किया है।

रूस के विदेशमंत्री सर्गेई लावरोफ ने कहा है कि ईरान को एस 300 रक्षा मिसाइल प्रणाली की आपूर्ति से किसी देश को कोई खतरा नहीं होगा रूस की ओर से ईरान को इस सिस्टम की आपूर्ति रद्द किये जाने के समाचार सामने आने के बाद रूस के विदेश मंत्रालय ने इस संबंध में एक बयान जारी किया है। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोफ ने ताकीद की है कि ईरान को इस प्रणाली की आपूर्ति, किसी भी देश के लिए खतरा नहीं है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को ईरान के इस सिस्टम आपूर्ति पर लगे प्रतिबंध को रद्द करने का ऐलान किया है।

गौरतलब है कि दो हजार सात में इस बारे में तेहरान और मॉस्को के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हुये थे लेकिन अमेरिका और ज़ायोनी शासन के दबाव और प्रतिबंधों की वजह से ईरान को यह मिसाइल प्रणाली दिये जाने से बचा जा रहा था।

अलअर्बियह टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार रूसी रक्षा मंत्रालय ने घोषणा की है कि ईरान को जल्द ही एस 300 रक्षा मिसाइल प्रणाली दे दी जाएगी। एस 300 सिस्टम में पहले केवल हवा में विमानों और क्रूज मीज़ाईलों का मुकाबला करने की क्षमता थी मगर इसे अपग्रेड किए जाने के बाद अब इस सिस्टम को बलस्टिक मीज़ाईलों का मुकाबला करने की भी क्षमता है।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी.... फ़र्ज़ी यूनिवर्सिटी स्थापित कर भारतीय छात्रों को गुमराह कर रही है अमेरिकी सरकार । वह एक मां थी... क़ुर्आन को ज़हर बता मस्जिदें बंद कराने का दम भरने वाले डच नेता ने अपनाया इस्लाम । तुर्की के सहयोग से इदलिब पहुँच रहे हैं हज़ारो आतंकी । आयतुल्लाह सीस्तानी की दो टूक , इराक की धरती को किसी भी देश के खिलाफ प्रयोग नहीं होने देंगे । ईरान विरोधी किसी भी सिस्टम का हिस्सा नहीं बनेंगे : इराक सीरिया की शांति और स्थायित्व ईरान का अहम् उद्देश्य, दमिश्क़ और तेहरान के संबंधों में और मज़बूती के इच्छुक : रूहानी आयतुल्लाह सीस्तानी से मुलाक़ात के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत नजफ़ पहुंची इस्लामी इंक़ेलाब की सुरक्षा ज़रूरी , आंतरिक और बाह्र्री दुश्मन कर रहे हैं षड्यंत्र : आयतुल्लाह जन्नती