Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 72849
Date of publication : 13/4/2015 22:3
Hit : 445

बान की मून

लोज़ान समझौते से व्यापक परमाणु समझौते का मार्ग प्रशस्त हुआ।

रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने रविवार को क़तर के शहर दोहा में संयुक्त राष्ट्र क्राइम प्रेविनशन और क्रिमिनल जस्टिस (United Nations Congress on Crime Prevention and Criminal Justice) की तेरहवें सम्मेलन के अवसर पर एक संवाददाता सम्मेलन में स्विट्जरलैंड के शहर लोज़ान में ईरान और गुट 5+1 के बातचीत से प्राप्त होने वाले परिणामों को एक महत्वपूर्ण बदलाव बताया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि पक्षों के बीच तय करने वाले समझौते से व्यापक समझौते का मार्ग प्रशस्त हुआ है।


विलायत पोर्टलः रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने रविवार को क़तर के शहर दोहा में संयुक्त राष्ट्र क्राइम प्रेविनशन और क्रिमिनल जस्टिस (United Nations Congress on Crime Prevention and Criminal Justice) की तेरहवें सम्मेलन के अवसर पर एक संवाददाता सम्मेलन में स्विट्जरलैंड के शहर लोज़ान में ईरान और गुट 5+1 के बातचीत से प्राप्त होने वाले परिणामों को एक महत्वपूर्ण बदलाव बताया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि पक्षों के बीच तय करने वाले समझौते से व्यापक समझौते का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

दूसरी ओर अमरीकी विदेश मंत्री ने अपने देश के सांसदों और सदस्यों से मांग की है कि वह ईरान के साथ परमाणु वार्ता में हस्तक्षेप न करें।

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने रविवार को सांसदों से कहा कि वह तीस जून की समय सीमा से पहले ईरान और गुट 5+1 के बीच होने वाले परमाणु वार्ता में हस्तक्षेप न करें। जान केरी ने सीबीएस टीवी चैनल को इंटरव्यू देते हुए कहा कि वह तेरह और चौदह अप्रैल को अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों के लिए लोज़ान समझौते की व्याख्या करेंगे।

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ने पनामा में अमेरिका महाद्वीप के वार्षिक शिखर सम्मेलन में कहा कि ईरान के साथ परमाणु वार्ता और विदेश नीति के दूसरे मुद्दों से संबंधित दलीय बहस अपनी सीमा से आगे बढ़ चुकी है अब इस बहस को समाप्त हो जाना चाहिए। बराक ओबामा ने लोज़ान समझौते का विरोध करने की वजह से रिपब्लिकन पार्टी से संबंध रखने वाले सेनेटर जॉन मैककेन सहित सीनेट के कुछ सदस्यों की आलोचना करते हुए कहा कि इस बात के बावजूद कि कौन सी पार्टी और कौन अमेरिका का राष्ट्रपति या विदेश मंत्री है, विदेश नीति चलाने का यह तरीका सही नहीं है। गौरतलब है कि जॉन मैककेन ने पिछले सप्ताह एक साक्षात्कार में कहा था कि ईरानी अधिकारियों ने इस समझौते की जो व्याख्या की है वह इस समझौते के बारे में जान केरी के बयान से ज्यादा सही और तार्किक है। ईरान और गुट 5+1 ने नौ दिन की बातचीत के बाद दो अप्रैल को कहा था कि उनके बीच व्यापक समझौते तक पहुँचने के तरीकों पर सहमति तय पा गई है। ईरान और गुट 5+1 के पास ईरान के परमाणु समझौते तक पहुँचने के लिए तीस जून तक का समय है।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी.... फ़र्ज़ी यूनिवर्सिटी स्थापित कर भारतीय छात्रों को गुमराह कर रही है अमेरिकी सरकार । वह एक मां थी... क़ुर्आन को ज़हर बता मस्जिदें बंद कराने का दम भरने वाले डच नेता ने अपनाया इस्लाम । तुर्की के सहयोग से इदलिब पहुँच रहे हैं हज़ारो आतंकी । आयतुल्लाह सीस्तानी की दो टूक , इराक की धरती को किसी भी देश के खिलाफ प्रयोग नहीं होने देंगे । ईरान विरोधी किसी भी सिस्टम का हिस्सा नहीं बनेंगे : इराक सीरिया की शांति और स्थायित्व ईरान का अहम् उद्देश्य, दमिश्क़ और तेहरान के संबंधों में और मज़बूती के इच्छुक : रूहानी आयतुल्लाह सीस्तानी से मुलाक़ात के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत नजफ़ पहुंची इस्लामी इंक़ेलाब की सुरक्षा ज़रूरी , आंतरिक और बाह्र्री दुश्मन कर रहे हैं षड्यंत्र : आयतुल्लाह जन्नती