Monday - 2018 Sep 24
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 64295
Date of publication : 6/12/2014 22:52
Hit : 358

मस्जिदुल अक्सा के डायरेक्टर:

पवित्र स्थानों की रक्षा प्रतिरोध से ही संभव।

मस्जिदुल अक्सा के डायरेक्टर शेख नजाह ने कहा है कि अतिगृहित अलक़ुद्स और मस्जिदुल अक्सा की रक्षा का एकमात्र रास्ता प्रतिरोध है।



विलायत पोर्टलः रिपोर्ट के अनुसार मस्जिदुल अक्सा के डायरेक्टर शेख नजाह ने कहा है कि अतिगृहित अलक़ुद्स और मस्जिदुल अक्सा की रक्षा का एकमात्र रास्ता प्रतिरोध है। उन्होंने कहा कि हमें प्रतिरोध की संस्कृति को पुनर्जीवित और पवित्र स्थानों की रक्षा जारी रखनी होगी क्योंकि दुश्मन के विरूद्ध जंग में अगर हम मजबूत नहीं होंगे तो दुश्मन हम पर हावी हो सकता है। शेख नजाह ने कहा वार्ता के रास्ते से हमें अब तक बहुत ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है और सिर्फ़ प्रतिरोध से ही दुश्मन को यह एहसास कराया जा सकता है कि उनका सामना एक ज़िंदा क़ौम से है। उन्होंने कहा कि मस्जिदुल अक़सा के ख़िलाफ़ जायोनी शासन की कार्यवाहियां अत्यंत गंभीर है और अगर हम इन उपायों को रोकने में नाकाम हुए तो मस्जिदुल अक़सा से हम हाथ धो बैठेंगे।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :