Wed - 2018 Sep 26
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 58899
Date of publication : 8/9/2014 23:26
Hit : 615

दाइश के हाथों मारे गये पत्रकार के परिवार वालों की बग़दादी को चुनौती।

इराक़ और सीरिया में सक्रिय आतंकवादी समूह दाइश ISIS के हाथों मारे गये दूसरे अमेरिकी पत्रकार स्टीवन सोटलोफ के परिजनों ने दाइश प्रमुख अबू बकर बग़दादी को क़ुरआन में शांति की शिक्षा के हवाले से वादविवाद की चुनौती दे दी है और बताया गया है कि मरने वाला पत्रकार नर्म स्वभाव का इंसान था



विलायत पोर्टलः इराक़ और सीरिया में सक्रिय आतंकवादी समूह दाइश ISIS के हाथों मारे गये दूसरे अमेरिकी पत्रकार स्टीवन सोटलोफ के परिजनों ने दाइश प्रमुख अबू बकर बग़दादी को क़ुरआन में शांति की शिक्षा के हवाले से वादविवाद की चुनौती दे दी है और बताया गया है कि मरने वाला पत्रकार नर्म स्वभाव का इंसान था। दाइश ने मंगलवार को एक वीडियो जारी किया था जिसमें एक नामालूम लड़ाके को सोटलोफ का सिर कलम करते हुए दिखाया गया था। सोटलोफ के परिवार के प्रवक्ता की भूमिका निभाने वाले दोस्त बराक बरफ़ी ने उसके परिवार की तरफ़ से एक बयान तैयार किया जिसमें उसे भोजन और अमेरिकी फुटबॉल का शौकीन बताते हुए कहा गया है कि मारा गया पत्रकार साउथ पार्क नामक टीवी सीरियल बड़े शौक से देखा करता था, वह अपने पिता से गोल्फ से संबंधित भी ढेरों बातें करता था। बयान के अनुसार 31 वर्षीय सोटलोफ दो नावों का एक सवार था जिसे अरब दुनिया ने उसे अपनी ओर खींच लिया, उसे जंग का कोई शौक नहीं था वह तो केवल उन लोगों को आवाज़ देना चाहता था कि जिनके पास अपनी आवाज पहुंचाने का कोई साधन मौजूद नहीं था। उन्होंने ISIS के नेता अबू बकर बग़दादी को इस्लाम पर बहस की चुनौती देते हुए कहा कि रमज़ान तो रहमत का महीना था मगर तुम अपनी दया दिखाने में असफल रहे हो, तुम से शांति की शिक्षा के साथ बहस करने को तैयार हूँ, हाथ में कोई तलवार नहीं है और मैं तुम्हारे जवाब के लिए तैयार हूँ। सोटलोफ को अगस्त 2013 में तुर्की से सीरिया जाते हुए अपहरण कर लिया गया था। इस्राईली विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने टि्वटर पर संदेश में कहा है कि सोटलोफ के पास इस्राईली नागरिकता भी थी।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :