Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 58127
Date of publication : 26/8/2014 23:46
Hit : 453

बारेज़ानीः ईरान ने हमेशा कुर्दों की मदद की है।

ईरान के विदेशमंत्री ने कहा है कि तेहरान की ओर से इराक़ के कुर्दिस्तान इलाक़े की सहायता, कुर्दों और इराक़ की केन्द्रीय सरकार के बीच समर्थन के आधार पर है।

अबनाः ईरान के विदेशमंत्री ने कहा है कि तेहरान की ओर से इराक़ के कुर्दिस्तान इलाक़े की सहायता, कुर्दों और इराक़ की केन्द्रीय सरकार के बीच समर्थन के आधार पर है। मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने मंगलवार को इराक़ के कुर्दिस्तान इलाक़े के प्रमुख मसूद बारेज़ानी के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा कि ईरान, इराक़ की संप्रभुता का सम्मान करता है। जवाद ज़रीफ़ ने इस बात का उल्लेख करते हुए कि तेहरान, इराक़ की शांति एवं सुरक्षा को अपनी सुरक्षा समझता है, स्पष्ट किया कि दाइश केवल कुर्दों, अरबों और शिया मुसलमानों का दुश्मन नहीं है बल्कि, वह इलाक़े के सभी देशों का खुला दुश्मन है। ईरान के विदेशमंत्री ने बल देकर कहा कि इराक़ में तेहरान की फ़ौजी उपस्थिति नहीं है लेकिन इराक़ की सरकार और कुर्दिस्तान के साथ वह सुरक्षा के इलाक़े में सहकारिता कर रहा है। उन्होंने कहा कि पश्चिम के विपरीत इस्लामी रिपब्लिक ईरान ने इराक़ और कुर्दिस्तान के संदर्भ में सभी वचनों का पालन किया है। इस संयुक्त प्रेस कॉन्फ़्रेंस में मसूद बारेज़ानी ने बल दिया कि इराक़ के कुर्दिस्तान ने सभी देशों से सहायता मांगी थी और ईरान ही वह पहला देश था जिसने सबसे पहले इस मांग का सकारात्मक जवाब दिया था। इराक़ के कुर्दिस्तान इलाक़े के प्रमुख मसूद बारेज़ानी ने इस्लामी रिपब्लिक ईरान और इस्लामी इंक़ेलाब के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ईरान ने कुर्दिस्तान का विषम परिस्थितियों में साथ दिया और यहां के लोग इस उपकार को कभी नहीं भूलेंगे। ईरान के विदेशमंत्री और इराक़ के कुर्दिस्तान के प्रमुख मसूद बारेज़ानी दोनों ने हैदर अलएबादी के नेतृत्व वाली इराक़ की नई सरकार का समर्थन करते हुए इराक़ में नए मंत्रिमण्डल के बहुत जल्द गठन पर बल दिया है।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का सम्मान करते हैं लेकिन इस्राईल की नकेल कसो : लेबनान दक्षिण कोरिया ने आंग सान सू ची से ग्वांगजू पुरस्कार वापस लेने का फैसला किया । सूडान ने इस्राईल के अरमानों पर पानी फेरा, संबंध सामान्य करने से किया इंकार । हज़रत फ़ातिमा मासूमा स.अ. सऊदी अरब का अमेरिका को कड़ा संदेश, हमारे मामले में मुंह बंद रखे सीनेट । इदलिब की आज़ादी प्राथमिकता, अतिक्रमणकारियों को सीरिया से भागना ही होगा : दमिश्क़ हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स की मांग, अमेरिका से राजनैतिक संबद्धता कम करे इंग्लैंड। अवैध राष्ट्र ने लगाई गुहार, लेबनान सेना पर दबाव बनाए अमेरिका । अमेरिकी गठबंधन आतंकी संगठनों की मदद से सीरिया के तेल संपदा को लूटने में व्यस्त । मासूमा ए क़ुम स.अ. की शहादत के शोक में डूबा ईरान, क़ुम समेत देश भर में मातम । अमेरिका ने स्वीकारा, असद को पदमुक्त करना उद्देश्य नहीं । सिर्फ दो साल, और साठ हज़ार लोगों की जान ले चुका है यमन संकट । हमास ने दिया इस्राईल को गहरा झटका, पकडे गए ड्रोन विमानों का क्लोन बनाया । आले सऊद की काली करतूत, क़तर पर हमला कर हड़पने की साज़िश का भंडाफोड़ । रूस मामलों में पोम्पियो की कोई हैसियत नहीं, अमेरिका की विदेश नीति का भार जॉन बोल्टन के कंधों पर : लावरोफ़