Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 57512
Date of publication : 17/8/2014 19:16
Hit : 638

दाइश की ख़िलाफ़त पूरी तरह ग़ैर इस्लामी हैः अमरीकी लेखक

अमेरिका के एक प्रमुख लेखक और विश्लेषक “डॉक्टर केविन बैरेट ने प्रेस टीवी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख में दाइश की ख़िलाफ़त को गैर इस्लामी बताते हुए कहा है कि दाइश की तथाकथित इस्लामी ख़िलाफ़त वास्तव में वास्तविक इस्लाम के ख़िलाफ़ एक झूठा इस्लामी झंडा है। अहलेबैत समाचार एजेंसी अबनाः अमेरिका के एक प्रमुख लेखक और विश्लेषक “डॉक्टर केविन बैरेट ने प्रेस टीवी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख में दाइश की ख़िलाफ़त को गैर इस्लामी बताते हुए कहा है कि दाइश की तथाकथित इस्लामी ख़िलाफ़त वास्तव में वास्तविक इस्लाम के ख़िलाफ़ एक झूठा इस्लामी झंडा है। बैरेट लिखते हैं कि दाइश का मिशन इस्लाम के टेहरे को बिगाड़ना, सांप्रदायिक दंगे भड़काना और मध्य पूर्व में अस्थिरता पैदा कर इस्लामी दुनिया में अमरीकी हस्तक्षेप के लिए रास्ता तैयार करना है। बैरेट लिखते हैं कि अल-क़ायदा के पूर्व कमांडर नबील नईम ने भी दाइश की तथाकथित ख़िलाफ़त को अमरीका की पैदावार और फ़ार्स की खाड़ी में उसकी कठपुतली बताते हुये कहा है कि दाइश को बनाने वाले अमरीका व इस्राईल हैं। उन्होंने कहा कु जॉर्डन के शिविरों में जहां दाइश को प्रशिक्षण और हथियार दिया गया वहीं अमरीकी अफ़सर उन्हें ट्रेनिंग दे रहे हैं। नईम का कहना है कि दाइश की मदद अमरीका कर रहा है और दाइश से जुड़े हजारों आतंकवादियों का तेल अवीव के अस्पतालों में इलाज हो रहा है। इस अमरीकी लेखक ने लिखा है कि दाइश ने शादी की पाक रस्म को भी शर्मसार किया है। यह लोग धर्म के नाम पर लोगों का नरसंहार और महिलाओं के साथ बलात्कार कर रहे हैं। इराक़ और सीरिया में वह उसी तरह के नरसंहार में व्यस्त हैं जिस तरह इस्राईल, फ़िलिस्तीनियों के नरसंहार में व्यस्त है। और इस्लाम को बदनाम करने में दाइश ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। सीरिया और इराक़ में दाइश की दरिंदगी और अत्याचार को लेकर बैरेट लिखते हैं कि दाइश का रवैया गैर इस्लामी ही नहीं बल्कि शैतानी है और पूरी दुनिया ने दाइश की गैर इस्लामी खिलाफ़त के शैतानी कारनामों को देखा है। यह लोग शरीर के आंतरिक हिस्सों को निकाल कर खाते हैं जो हिन्दा की रस्म है और हिन्दा इस्लाम की सबसे बड़ी दुश्मन थी। बैरेट लिखते हैं कि एक आदमी को भेंट बता कर उसका गला काटना पागलपन और दरिंदगी है और हर मुसलमान जानता है कि ऐसा करने वाला मुसलमान नहीं बल्कि शैतान सिफ़त दरिन्दा है। लेख के अंत में डॉक्टर केविन बैरेट लिखते हैं कि ऐसा कोई भी मुसलमान सपने में भी नहीं कर सकता कि वह अल्लाह के सामने एक आदमी का गला काट दे और फिर अल्लाह से भेंट स्वीकार करने की दुआ करे। यह सारे काम ग़ैर इंसानी व अमानवीय हैं जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ज़ियारते आशूरा की फ़ज़ीलत इस्राईल और ज़ायोनियों ने 50 साल दुआ की तब बिन सलमान जैसा दोस्त मिला : हारेत्ज़ आले सऊद की हैवानियत, जमाल की हत्या का आदेश देकर कहा, इस कुत्ते का सर मेरे पास ले आना इराक से अमेरिकी सेना को निकालना प्रधानमंत्री की प्राथमिकता में शामिल, बुधवार को संसद का अधिवेशन भारत और ईरान मिलकर बनाएंगे खुद का सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम ! ईरान - इराक बॉर्डर पर पहुंचे महमूद अलवी, ज़ायरीन पर आतंकी हमलों की योजना विफल सऊदी शासक की सच्चाई पर शक नहीं लेकिन 'पूर्वनियोजित थी जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या : अर्दोग़ान जमाल ख़ाशुक़जी के परिवार के लिए हत्यारों ने भेजा शोक संदेश तेहरान और रियाज़ के बीच मध्यस्था को तैयार, पाकिस्तान को आर्थिक सहायता दे सऊदी अरब : इमरान खान मुख्तार हन्नानी का बिन सलमान पर कड़ा कटाक्ष, सच्चा लीडर खुद को बचने के लिए अपने साथियों की भेंट नहीं देता ! आले सऊद की दरिंदगी, रसूल स.अ. के सहाबी मआज़ बिन जबल की बनाई यमन की ऐतिहासिक मस्जिद को किया शहीद! जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या दुखदायी, लेकिन हमे पैसों की ज़रूरत : इमरान खान पाकिस्तान, क़तर की सिफारिश पर तालेबान लीडर मुल्ला बरादर जेल से आज़ाद ईरान की मांग, सऊदी अरब को मानवाधिकार परिषद से निकाले संयुक्त राष्ट्र इस्लामी जगत से सऊदी अरब को किनारे लगा खुद नेतृत्व चाहता है तुर्की : गार्डियन