Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 57258
Date of publication : 14/8/2014 12:40
Hit : 509

इस्राईल ने अपने ही सैनिकों को मार गिराया!!!

ग़ज़्ज़ा जंग के दौरान इस्राईली सेना ने पहले तो जीत हासिल करने और इस लक्ष्य को असंभव होता देख अपनी हार पर पर्दा डालने के लिए अजीबो ग़रीब हरकतें की हैं जो धीरे धीरे सामने आ रही हैं।


अबनाः ग़ज़्ज़ा जंग के दौरान इस्राईली सेना ने पहले तो  जीतहासिल करने और इस लक्ष्य को असंभव होता देख अपनी हार पर पर्दा डालने के लिए अजीबो ग़रीब हरकतें की हैं जो धीरे धीरे सामने आ रही हैं। उदाहरण स्वरूप उन घटनाओं की ओर इशारा किया जा सकता है जिनमें इस्राईली सेना ने अपने ही तीन सैनिकों को मार गिराया। इस्राईली सेना के एक कमांडर ने बताया कि अपने तीन सैनिकों को फ़िलिस्तीनी संगठन हमास के हाथों गिरफ़्तार होने से बचाने के लिए उन्हें ख़ुद ही मार डाला। इस्राईल के चैनल टू ने अपनी एक रिपोर्ट में ग़ज़्ज़ा पट्टी पर इस्राईली सेना के हमले से इस्राईल को होने वाली भारी आर्थिक नुक़सान का हवाला देते हुए कहा कि इस्राईली सैनिकों ने तीन बार अपने साथियों को फ़िलिस्तीनियों के हाथों बंधक बनने से बचाया लेकिन तीनों ही घटनाओं में वह सैनिक मारे गए। टीवी चैनल के रिपोर्टर ओरहेलर ने इस्राईली सैनिकों को बंधक बनाने के लिए फ़िलिस्तीनी संघर्षकर्ताओं की जटिल कार्यवाहियों की ओर इशारा करते हुए बताया कि फ़िलिस्तीनी लड़ाकों ने ख़ान युनुस में दो बार और बैत हानून में एक बार इस्राईली सैनिकों को बंधक बनाने की कोशिश की।  


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

अरब शासकों को ट्रम्प का आदेश, दमिश्क़ से संबंध सुधारो। इस्राईल के हमले नहीं रुके तो दमिश्क़ तल अवीव एयरपोर्ट को निशाना बनाने के लिए तैयार : बश्शार क़ुद्स को राजधानी बना कर अलग फ़िलिस्तीन राष्ट्र का गठन हो : चीन अय्याश सऊदी युवराज बिन सलमान ने माँ के बाद अब अपने भाई को बंदी बनाया। क़ासिम सुलेमानी के आदेश पर सीरिया ने इस्राईल पर मिसाइल दाग़े : ज़ायोनी मीडिया यूरोपीय यूनियन के ख़िलाफ़ बश्शार असद का बड़ा क़दम, राजनयिकों का विशेष वीज़ा किया रद्द। अमेरिकी सेना ने माना, इराक युद्ध का एकमात्र विजेता है ईरान । बर्नी सैंडर्स की मांग, सऊदी तानाशाही की नकेल कसे विश्व समुदाय । ईरान विरोधी बैठकों से कुछ हासिल नहीं, यादगारी तस्वीरें लेते रहे नेतन्याहू । हसन नसरुल्लाह का लाइव इंटरव्यू होगा प्रसारित,सऊदी इस्राईली मीडिया की हवा निकली । आले ख़लीफ़ा का यूटर्न , कभी भी दमिश्क़ विरोधी नहीं था बहरैन इदलिब , नुस्राह फ्रंट के ठिकानों पर रूस की भीषण बमबारी । हश्दुश शअबी की कड़ी चेतावनी, आग से न खेले तल अवीव,इस्राईल की ईंट से ईंट बजा देंगे । दमिश्क़ पर फिर हमला, ईरानी हित थे निशाने पर, जौलान हाइट्स पर सीरिया ने की जवाबी कार्रवाई । नहीं सुधर रहा इस्राईल, दमिश्क़ के उपनगरों पर फिर किया हमला।