Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 55881
Date of publication : 18/7/2014 1:41
Hit : 600

बश्शार असद ने ली सीरिया के राष्ट्रपति पद की शपथ।

सीरिया के राष्ट्रपति बश्शार असद ने राष्ट्रपति पद के शपथ ग्रहण समारोह में बल दिया कि सीरियाई राष्ट्र ने चुनाव में भाग लेकर आतंकवाद को चुनौती दी है। सीरिया के राष्ट्रपति बश्शार असद ने राष्ट्रपति पद के शपथ ग्रहण समारोह में बल दिया कि सीरियाई राष्ट्र ने चुनाव में भाग लेकर आतंकवाद को चुनौती दी है।
अलमयादीन टीवी चैनल के अनुसार बश्शार असद ने बुधवार को संसद में शपथग्रहण के बाद, शपथ ग्रहण समारोह में उपस्थित लोगों के बीच कहा कि वास्तविक क्रान्तिकारी सीरियाई राष्ट्र है जिसने अपने दृष्टिगत राष्ट्रपति, संसद और संविधान को चुना और राष्ट्रपति पद के चुनाव में भाग लेकर आतंकवाद को चुनौती दी।
उन्होंने इस बात पर बल देते हुए कि सीरियाई राष्ट्र के दुश्मन उसके संकल्प को नहीं डिगा सके, कहा कि राजनीति, तेल और मीडिया साम्राज्य सीरियाई जनता के ब्रेनवाश करने मे नाकाम हो गया।
सीरियाई राष्ट्रपति ने राष्ट्रों के अधिकारों और प्रजातंत्र के संबंध में पश्चिमी देशों के दोहरे व्यवहार की आलोचना करते हुए कहा कि प्रजातंत्र और राष्ट्रों के अधिकारों के संबंध में पश्चिम का दोहरा व्यवहार है और इसी व्यवहार के कारण पश्चिमी देशों में रहने वाले सीरियाई नागरिकों को राष्ट्रपति पद के चुनाव में भाग लेने से रोक दिया गया।
उन्होंने तुर्की के प्रधान मंत्री रजब तय्यब अर्दोग़ान की कड़ी आलोचना करते हुए सीरिया के संबंध में उनके दृष्टिकोण को लज्जाजनक बताया।
बश्शार असद ने इराक़ के हालात के संबंध में कहा कि इराक़ हालात ने यह बात साबित कर दी कि सीरिया की वह चेतावनी सही थी कि षड्यंत्र सीरिया की सीमाओं तक सीमित नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि सीरिया ने इराक़ पर हमले का विरोध किया क्योंकि यह हमला फूट, सांप्रदायिकता और आतंकवादियों के सक्रिय होने का आरंभिक बिन्दु बना।
सीरियाई राष्ट्रपति ने इस बात का उल्लेख करते हुए कि पश्चिम क्षेत्र के सबसे भ्रष्ट अत्याचारी देशों के साथ संपर्क में है, बल दिया कि सीरिया में आतंकवाद के समर्थक पश्चिमी और अरब देश, आतंकवादी हमलों की बड़ी क़ीमत चुकाएंगे।
उन्होंने इसी प्रकार सीरिया के विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्रीय प्रक्रिया से जुड़ने पर बल देते हुए धोखा खाने वालों से हथियार रखने की अपील की।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ज़ियारते आशूरा की फ़ज़ीलत इस्राईल और ज़ायोनियों ने 50 साल दुआ की तब बिन सलमान जैसा दोस्त मिला : हारेत्ज़ आले सऊद की हैवानियत, जमाल की हत्या का आदेश देकर कहा, इस कुत्ते का सर मेरे पास ले आना इराक से अमेरिकी सेना को निकालना प्रधानमंत्री की प्राथमिकता में शामिल, बुधवार को संसद का अधिवेशन भारत और ईरान मिलकर बनाएंगे खुद का सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम ! ईरान - इराक बॉर्डर पर पहुंचे महमूद अलवी, ज़ायरीन पर आतंकी हमलों की योजना विफल सऊदी शासक की सच्चाई पर शक नहीं लेकिन 'पूर्वनियोजित थी जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या : अर्दोग़ान जमाल ख़ाशुक़जी के परिवार के लिए हत्यारों ने भेजा शोक संदेश तेहरान और रियाज़ के बीच मध्यस्था को तैयार, पाकिस्तान को आर्थिक सहायता दे सऊदी अरब : इमरान खान मुख्तार हन्नानी का बिन सलमान पर कड़ा कटाक्ष, सच्चा लीडर खुद को बचने के लिए अपने साथियों की भेंट नहीं देता ! आले सऊद की दरिंदगी, रसूल स.अ. के सहाबी मआज़ बिन जबल की बनाई यमन की ऐतिहासिक मस्जिद को किया शहीद! जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या दुखदायी, लेकिन हमे पैसों की ज़रूरत : इमरान खान पाकिस्तान, क़तर की सिफारिश पर तालेबान लीडर मुल्ला बरादर जेल से आज़ाद ईरान की मांग, सऊदी अरब को मानवाधिकार परिषद से निकाले संयुक्त राष्ट्र इस्लामी जगत से सऊदी अरब को किनारे लगा खुद नेतृत्व चाहता है तुर्की : गार्डियन