Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 54949
Date of publication : 6/7/2014 16:4
Hit : 670

सऊदी अरब में 24 निर्दोषों को जेल।

आले सऊद की अदालत ने चौबीस लोगों को सरकार विरोधी प्रदर्शनों में शामिल होने के आरोप में कैद की सजा सुनाई है।

आले सऊद की अदालत ने चौबीस लोगों को सरकार विरोधी प्रदर्शनों में शामिल होने के आरोप में कैद की सजा सुनाई है।
अहलेबैत (अ) समाचार एजेंसी अबनाः सऊदी समाचार एजेंसी के अनुसार जद्दा में एक अदालत ने चौबीस लोगों को दंगों, हड़ताल और हिंसा भड़काने के आरोप में चार महीनों से पांच वर्षों तक कैद की सजा सुनाई है।
सऊदी अरब में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि आले सऊद की कॉल कोठरियों में तीस हज़ार राजनीतिक कैदी बंद हैं। इन कैदियों को बिना किसी मुकद्दमे के वर्षों से जेलों में रखा गया है। सऊदी अरब ने जो ख़ुद सीरिया और इराक में तकफ़ीरी आतंकवादियों का सबसे बड़ा समर्थक है, सऊदी अरब में आलोचकों के दमन और शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने वाली निहत्थी जनता के विरूद्ध तथाकथित आतंकवाद विरोधी कानून की घोषणा की है जिसके बाद मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि आले सऊद को अब कानूनी तौर पर नागरिकों को कुचलने का बहाना मिल गया है। आले सऊद के नौकरों द्वारा की गई फायरिंग में अब तक ऐसे दर्जनों प्रदर्शनकारी मारे गए हैं, जो शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे और अपने कानूनी अधिकारों की मांग कर रहे थे।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ज़ियारते आशूरा की फ़ज़ीलत इस्राईल और ज़ायोनियों ने 50 साल दुआ की तब बिन सलमान जैसा दोस्त मिला : हारेत्ज़ आले सऊद की हैवानियत, जमाल की हत्या का आदेश देकर कहा, इस कुत्ते का सर मेरे पास ले आना इराक से अमेरिकी सेना को निकालना प्रधानमंत्री की प्राथमिकता में शामिल, बुधवार को संसद का अधिवेशन भारत और ईरान मिलकर बनाएंगे खुद का सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम ! ईरान - इराक बॉर्डर पर पहुंचे महमूद अलवी, ज़ायरीन पर आतंकी हमलों की योजना विफल सऊदी शासक की सच्चाई पर शक नहीं लेकिन 'पूर्वनियोजित थी जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या : अर्दोग़ान जमाल ख़ाशुक़जी के परिवार के लिए हत्यारों ने भेजा शोक संदेश तेहरान और रियाज़ के बीच मध्यस्था को तैयार, पाकिस्तान को आर्थिक सहायता दे सऊदी अरब : इमरान खान मुख्तार हन्नानी का बिन सलमान पर कड़ा कटाक्ष, सच्चा लीडर खुद को बचने के लिए अपने साथियों की भेंट नहीं देता ! आले सऊद की दरिंदगी, रसूल स.अ. के सहाबी मआज़ बिन जबल की बनाई यमन की ऐतिहासिक मस्जिद को किया शहीद! जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या दुखदायी, लेकिन हमे पैसों की ज़रूरत : इमरान खान पाकिस्तान, क़तर की सिफारिश पर तालेबान लीडर मुल्ला बरादर जेल से आज़ाद ईरान की मांग, सऊदी अरब को मानवाधिकार परिषद से निकाले संयुक्त राष्ट्र इस्लामी जगत से सऊदी अरब को किनारे लगा खुद नेतृत्व चाहता है तुर्की : गार्डियन