Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 196849
Date of publication : 6/12/2018 16:21
Hit : 160

बहरैन, 46 साल, एक ही प्रधानमंत्री, चुनाव है या खेल ?

बहरैन में 46 साल से प्रधानमंत्री पद और चुनाव का ड्रामा खेला जा रहा है और 46 साल से ही ख़लीफ़ा बिन सलमान आले ख़लीफ़ा इस कुर्सी पर चिपका हुआ है जो इस देश जारी तानाशाही और चुनाव के नामा पर चल रहे खेल को बयान करने के लिए काफी है ।
विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार बहरैन में हाल ही में होने वाले तथाकथित चुनावों के बाद बहरैन के तानाशाह ने 46 साल से प्रधानमंत्री पद पर बैठे अपनी कठपुतली को एक बार फिर नई कैबिनेट के गठन का फ़रमान दिया है । बहरैन में देश के सबसे बड़े राजनैतिक दल अल विफाक़ और अन्य राजनैतिक दलों के बॉयकॉट के बावजूद आले ख़लीफ़ा तानाशाही के आदेश पर होने वाले औपचारिक एवं दिखावटी चुनाव के बाद ख़लीफ़ा बिन सलमान आले ख़लीफ़ा ने लगातार ग्यारहवीं बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में कैबिनेट का गठन किया । बहरैन में 46 साल से प्रधानमंत्री पद और चुनाव का ड्रामा खेला जा रहा है और 46 साल से ही ख़लीफ़ा बिन सलमान आले ख़लीफ़ा इस कुर्सी पर चिपका हुआ है जो इस देश जारी तानाशाही और चुनाव के नामा पर चल रहे खेल को बयान करने के लिए काफी है ।
..................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

अवैध राष्ट्र को आले सऊद का तोहफा, बिना वीज़ा सऊदी अरब आ सकेंगे इस्राईली कारोबारी। उमर बशीर के बाद सीरिया यात्रा पर जाने वाला अरब शासक कौन ? हमास नेता को मॉस्को यात्रा के निमंत्रण से बौखलाया इस्राईल, विरोध दर्ज कराया अमेरिका ने दिया कुर्द बलों को धोखा, सीरियन सेना में सम्मिलित हों कुर्द लड़ाके : YPG नेतन्याहू का ऐलान, ईरान से युद्ध कर रहे हैं अमेरिका और इस्राईल आईएसआईएस ने 700 से अधिक बंदियों को मौत के घाट उतारा संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का सम्मान करते हैं लेकिन इस्राईल की नकेल कसो : लेबनान दक्षिण कोरिया ने आंग सान सू ची से ग्वांगजू पुरस्कार वापस लेने का फैसला किया । सूडान ने इस्राईल के अरमानों पर पानी फेरा, संबंध सामान्य करने से किया इंकार । हज़रत फ़ातिमा मासूमा स.अ. सऊदी अरब का अमेरिका को कड़ा संदेश, हमारे मामले में मुंह बंद रखे सीनेट । इदलिब की आज़ादी प्राथमिकता, अतिक्रमणकारियों को सीरिया से भागना ही होगा : दमिश्क़ हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स की मांग, अमेरिका से राजनैतिक संबद्धता कम करे इंग्लैंड। अवैध राष्ट्र ने लगाई गुहार, लेबनान सेना पर दबाव बनाए अमेरिका । अमेरिकी गठबंधन आतंकी संगठनों की मदद से सीरिया के तेल संपदा को लूटने में व्यस्त ।