Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 194144
Date of publication : 9/6/2018 13:42
Hit : 379

हदीदह पर हमला हुआ तो मर सकते हैं 250 हज़ार लोग ।

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता प्रकोष्ठ के वरिष्ठ अधिकारी लीज़ ग्रैंड ने कहा कि अगर अतिक्रमणकारी संगठन यमन के अल हदीदह पर हमला करता है तो यहाँ भयानक मानवीय संकट खड़ा हो सकता है हदीदह पर सऊदी हमले के कारण कम से कम 250 हज़ार लोगों की मौत हो सकती है।
विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार संयुक्त राष्ट्र संघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने विश्व समुदाय को यमन पर सऊदी अतिक्रमण के दुष्परिणाम के बारे में चेताते हुए कहा कि यमन के हदीदह बंदरगाह पर गिद्ध दृष्टि जमाए बैठा सऊदी अरब अगर इस क्षेत्र पर हमला करता है यहाँ भारी मानवीय संकट खड़ा हो सकता है । संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता प्रकोष्ठ के वरिष्ठ अधिकारी लीज़ ग्रैंड ने कहा कि अगर अतिक्रमणकारी संगठन यमन के अल हदीदह पर हमला करता है तो यहाँ भयानक मानवीय संकट खड़ा हो सकता है हदीदह पर सऊदी हमले के कारण कम से कम 250 हज़ार लोगों की मौत हो सकती है।
.................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

राष्ट्रपति निकोलस मादुरो का ऐलान, अमेरिका के साथ कोई संबंध नहीं रखेगा वेनेज़ोएला पेरिस की आग की अनदेखी कर वेनेज़ोएला को सीख दे रहा है फ्रांस । रूस की अमेरिका को कड़ी चेतावनी, वेनेज़ोएला के मामलों में सैन्य हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं सरदार क़ासिम सुलेमानी को फॉरेन पॉलिसी के सर्वश्रष्ठ थिंकर्स में शामिल। आयतुल्लाह सीस्तानी से मिलने पहुँच संयुक्त राष्ट्र का प्रतिनिधि दल ईरान और इस्राईल में छिड़ सकता है युद्ध, उकसावे की कार्रवाई कर रहा है तल अवीव। अरब शासकों को ट्रम्प का आदेश, दमिश्क़ से संबंध सुधारो। इस्राईल के हमले नहीं रुके तो दमिश्क़ तल अवीव एयरपोर्ट को निशाना बनाने के लिए तैयार : बश्शार क़ुद्स को राजधानी बना कर अलग फ़िलिस्तीन राष्ट्र का गठन हो : चीन अय्याश सऊदी युवराज बिन सलमान ने माँ के बाद अब अपने भाई को बंदी बनाया। क़ासिम सुलेमानी के आदेश पर सीरिया ने इस्राईल पर मिसाइल दाग़े : ज़ायोनी मीडिया यूरोपीय यूनियन के ख़िलाफ़ बश्शार असद का बड़ा क़दम, राजनयिकों का विशेष वीज़ा किया रद्द। अमेरिकी सेना ने माना, इराक युद्ध का एकमात्र विजेता है ईरान । बर्नी सैंडर्स की मांग, सऊदी तानाशाही की नकेल कसे विश्व समुदाय । ईरान विरोधी बैठकों से कुछ हासिल नहीं, यादगारी तस्वीरें लेते रहे नेतन्याहू ।