Tuesday - 2018 June 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 194129
Date of publication : 7/6/2018 16:56
Hit : 1413

ग़ज़्ज़ा से लेकर दुनिया के अंतिम छोर तक बस एक ही पुकार, इस्राईल मुर्दाबाद ।

एक ओर जहाँ ग़ज़्ज़ा और फिलिस्तीन के लोगों ने क़ुद्स डे पर अपना ग्रेट वापसी मार्च जारी रखा वहीँ इमाम खुमैनी के आह्वान पर रमज़ानुल मुबारक के अंतिम जुमे को वर्ल्ड क़ुद्स डे के नाम से मनाए जाने वाले क़ुद्स डे के अवसर पर दुनिया भर के हज़ारों शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए ।
विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ल्ड क़ुद्स डे के मौके पर फिलिस्तीन के समर्थन और इस्राईल के अवैध क़ब्ज़े और अवैध ज़ायोनी राष्ट्र के खिलाफ दुनिया भर के दो हज़ार से अधिक शहरों मे इस्राईल और साम्राज्यवादी शक्तियों के विरुद्ध भारी विरोध प्रदर्शन हुए । एक ओर जहाँ ग़ज़्ज़ा और फिलिस्तीन के लोगों ने क़ुद्स डे पर अपना ग्रेट वापसी मार्च जारी रखा वहीँ इमाम खुमैनी के आह्वान पर रमज़ानुल मुबारक के अंतिम जुमे को वर्ल्ड क़ुद्स डे के नाम से मनाए जाने वाले क़ुद्स डे के अवसर पर दुनिया भर के हज़ारों शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए । अकेले ईरान में कम से कम 900 शहरों में क़ुद्स और फिलिस्तीन के समर्थन में विशाल प्रदर्शन हुए ईरान की हवाओं में आज सुबह दस बजे से ही इस्राईल मुर्दाबाद और अमेरिका मुर्दाबाद के नारों की गूँज थी । राजधानी तेहरान समेत देश के बड़े बड़े शहरों में आयोजित रैलियों में देश की जानीमानी राजनैतिक, सैन्य एवं धार्मिक हस्तियों ने भाग लिया जिस में आयतुल्लाह मकारिम शिराज़ी, आयतुल्लाह जन्नती, आयतुल्लाह जवादी आमुली, इमाम रज़ा अ.स. के रौज़े के प्रबंधक आयतुल्लाह सय्यद इब्राहीम रईसी, आयतुल्लाह नूरी हमदानी, आयतुल्लाह अलमुल हुदा जैसी बड़ी मज़हबी हस्तियां मौजूद थीं वही वरिष्ठ सैन्य कमांडर सरदार सफ़वी और सरदार सलामी जैसी असंख्य उच्च सैन्याधिकारी तथा सईद जलीली जैसे राजनेता भी मौजूद थे । ‏‏


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :