Thursday - 2018 Oct 18
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 194102
Date of publication : 5/6/2018 1:13
Hit : 2623

आयतुल्लाह ख़ामेनई का कड़ा सन्देश, परमाणु गतिविधियां शुरू करो, दुश्मन जानता है एक मारेगा तो दस खाएगा ।

आज कुछ यूरोपीय देश यह ख़्वाब देख रहे हैं कि वह ईरान पर पाबंदी भी लगाए रहेंगे और ईरान इन पाबंदियों का सामना करते हुए अपने परमाणु कार्यक्रम को रोके रखेगा, यह यूरोपीय देश दीवाने का ख़्वाब देख रहे हैं जो कभी पूरा नहीं होगा।

विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार ईरान की इस्लामी क्रांति के सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई ने इस्लामी गणतंत्र ईरान के संस्थापक आयतुल्लाह ख़ुमैनी की वफ़ात की वर्षगांठ पर देश को संबोधित करते हुए कहा कि आज साम्राज्यवादी शक्तियां इस बात की कोशिश कर रही हैं कि देश जिस क्षेत्र में उल्लेखनीय उन्नति कर रहा है उसको विवादस्पद बनाकर संकट खड़ा किया जा सके जिस का ताज़ा उदाहरण देश की रक्षा क्षमता और मिसाइल तकनीक है । विभिन्न प्रकार की मिसाइल क्षमता और उनका निर्माण देश की रक्षा और विकास के लिए बहुत उपयोगी है ।
आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि हमारे जवानों को शायद याद नहीं कि एक समय यही तेहरान दुश्मन के मिसाइल हमलों का सामना करता रहा है, रात दिन हम पर मिसाइल बरसते थे पूरी पूरी बस्तियां वीरान हो जाती थीं देश के अलग अलग शहर दुश्मन की मिसाइल वर्षा का सामना करते थे । हमारे पास मिसाइलें नहीं थी, अपनी रक्षा के लिए भी सैन्य संसाधन नहीं थे हम मजबूर हाथ मलते हुए यह दर्दनाक मंज़र देखते थे लेकिन आज हमारे जवानों ने ईरान को क्षेत्र का सबसे शक्तिशाली और मिसाइल शक्ति देश के रूप में स्थापित कर दिया है दुश्मन जानता है कि अगर वह हम पर एक मिसाइल फायर करेगा तो उसे जवाब में 10 हमलों का सामना करना होगा ।
मिसाइल क्षमता हमारी रक्षा के लिए बहुत ज़रूरी है और दुश्मन की सारी कोशिशें इसी मुद्दे पर हैं और खेद के साथ कहना पड़ता है कि कुछ अंदरूनी तत्व भी दुश्मन की हाँ में हाँ मिलाते हैं आखिर इन हरकतों का क्या फायदा है ? आज कुछ यूरोपीय देश यह ख़्वाब देख रहे हैं कि वह ईरान पर पाबंदी भी लगाए रहेंगे और ईरान इन पाबंदियों का सामना करते हुए अपने परमाणु कार्यक्रम को रोके रखेगा, यह यूरोपीय देश दीवाने का ख़्वाब देख रहे हैं जो कभी पूरा नहीं होगा। ऐसा नहीं हो सकता कि ईरान और देश की जनता यूरोपीय देशों के प्रतिबंधों में भी जकड़ी रहे और उनकी इच्छानुसार उनकी पाबंदियों को सहन भी करती रहे, देश की परमाणु ऊर्जा एजेंसी का कर्तव्य है कि वह आज से ही परमाणु कार्यक्रम को जारी कर दे।
.........................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :