Wed - 2018 August 15
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 193645
Date of publication : 9/5/2018 15:8
Hit : 464

इस्राईल को सता रहा है T-4 का डर, नौजबा मूवमेंट के माध्यम से शिकार कर सकता है ईरान : येरुशलम पोस्ट

नौजबा मूवमेंट के गठन का एक उद्देश्य ज़ायोनी क़ब्ज़े से जौलान हाइट्स को मुक्त कराना भी है जो अवैध राष्ट्र के लिए सामरिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण है जिसके लिए ज़ायोनी राष्ट्र कई बार चेतावनी भी दे चुका है प्रतिरोधी आंदोलन आतंकियों के विरुद्ध युद्ध में इस क्षेत्र का घेराव न करें ।

विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी एक अनुसार T-4 एयरबेस पर ज़ायोनी हमलों मे शहीद हुए ईरानी जवानों का बदला लेने का ऐलान कर अभी तक कोई सैन्य क़दम न उठाने वाले ईरान की रणनीति ने अवैध राष्ट्र का सुकून छीन लिया है ज़ायोनी राष्ट्र आए दिन ईरान के संभावित हमलों को लेकर बेचैन रहता है तथा ज़ायोनी मीडिया में फैला खौफ इस देश को परेशान करने के लिए काफी है । ताज़ा घटनाक्रम के अनुसार ज़ायोनी समाचार पत्र येरुशलम पोस्ट ने कहा है कि इस बात की संभावना है कि ईरान इन हमलों का बदला लेने की ज़िम्मेदारी आईआरजीसी बल को सौंपे या सीधे कोई कार्रवाई न कर किसी और माध्यम से यह बदला ले ।
ज़ायोनी समाचार पत्र के अनुसार शायद तेहरान सीधे कार्रवाई न करे और हिज़्बुल्लाह को भी मैदान में न उतारे इस अवस्था में बहुत संभव है कि वह सीरिया युद्ध में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाली नौजबा मूवमेंट को यह ज़िम्मेदारी सौंपे ।
नौजबा मूवमेंट के गठन का एक उद्देश्य ज़ायोनी क़ब्ज़े से जौलान हाइट्स को मुक्त कराना भी है जो अवैध राष्ट्र के लिए सामरिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण है जिसके लिए ज़ायोनी राष्ट्र कई बार चेतावनी भी दे चुका है प्रतिरोधी आंदोलन आतंकियों के विरुद्ध युद्ध में इस क्षेत्र का घेराव न करें । येरुशलम पोस्ट ने कहा कि संभव है कि ईरान अवैध राष्ट्र से बदला लेने के लिए आधुनिक ड्रोन समेत फ़ातेह-110 जैसे आधुनिक मिसाइल भी नौजबा मूवमेंट को दे दे ।
 ....................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :