Wed - 2018 Sep 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 192550
Date of publication : 11/3/2018 18:17
Hit : 364

अमेरिका और फ़्रांस ने हस्तक्षेप न किया तो सऊदी अरब का विनाश निश्चित ।

बिन सलमान को जो ज़िम्मेदारी सौंपी गई है वह उसे निभाने में सक्षम नहीं है पहला कारण यह है कि वह अशिक्षित है उसने यूनिवर्सिटी में नाम तो लिखवाया है लेकिन कभी यूनिवर्सिटी का मुंह नहीं देखा ।


विलायत पोर्टल :  लेबनानी समाचार पत्र अल दयार के अनुसार अमेरिकी सैन्याधिकारियों ने सऊदी अरब के अय्याश युवराज मोहम्मद बिन सलमान से मीटिंग के बाद कहा है कि सऊदी युवराज मे देश का नेतृत्व करने की योग्यता नहीं है । अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार बिन सलमान को जो ज़िम्मेदारी सौंपी गई है वह उसे निभाने में सक्षम नहीं है पहला कारण यह है कि वह अशिक्षित है उसने यूनिवर्सिटी में नाम तो लिखवाया है लेकिन कभी यूनिवर्सिटी का मुंह नहीं देखा । सऊदी नरेश ने बिन सलमान को रक्षा मंत्रालय का प्रभार सौंपा है जो हर साल 400 अरब डॉलर के हथियार खरीदता है जो इस्राईल सीरिया , इराक , ईरान ,मिस्र , स्पेन और इटली के रक्षा बजट से कहीं अधिक है लेकिन सऊदी युवराज को इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है नाहि उसे सैन्य मामलों में कोई ज्ञान है । इसी प्रकार प्रतिदिन 11 मिलियन बैरल तेल सप्लाई करने वाली अरामको कंपनी का दायित्व भी सऊदी युवराज के पास है जिस क्षेत्र में उसे कुछ भी अनुभव नहीं है। इसी प्रकार सऊदी दरबार का नियंत्रण भी सऊदी अरब के अय्याश युवराज के हाथों में है । अगर समय रहते अमेरिका और फ्रांस ने कोई हस्तक्षेप न किया तो सऊदी अरब को बिखरने से कोई नहीं रोक सकता ।
 ............


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :