Tuesday - 2018 Sep 25
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 192069
Date of publication : 14/2/2018 6:35
Hit : 2440

आयतुल्लाह ख़ामेनई की इंदिरा गाँधी से मुलाक़ात

हैदराबाद में अपनी 24 घंटे की यात्रा के दौरान उलमा , छात्रों और लोगों से मुलाक़ात करने के बाद आयतुल्लाह ख़ामेनई ने बंगलौर की ओर कूच किया जहाँ छात्रों ने ईरान की आईआरजीसी बल की ड्रेस में आपका स्वागत करते हुए आपके सम्मान में परेड करते हुए नारे लगाए “सल्ले अला मोहम्मद - यारे इमाम खुश आमद

विलायत पोर्टल :  ईरान के इस्लामी इंक़ेलाब के शुरूआती दिनों में भारत यात्रा पर आये आयतुल्लाह ख़ामेनई अपनी भारत यात्रा पर बुधवार की दोपहर में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी से मुलाक़ात करने के लिए उनके ऑफिस पहुंचे जहाँ दोनो नेताओं ने एक दूसरे के साथ विचार विमर्श किया । याद रहे कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की बेटी इंदिरा गाँधी ईरान के इस्लामी इंक़ेलाब की प्रशंसक थी उन्होने इसी मुलाक़ात में इस्लमी ईरान की सफलता की दूसरी वर्षगांठ पर हज़रत इमाम खुमैनी र.ह. को शुभकामनायें भेजीं ।
इमाम ख़ुमैनी का पैग़ाम इंदिरा गाँधी के नाम
श्रीमती इंदिरा गाँधी,
प्रधानमंत्री भारत सरकार, नई दिल्ली
ईरान के प्रभावशाली और गौरवमयी इस्लामी इंक़ेलाब की दूसरी वर्षगांठ पर आपकी शुभकामनाओं ने हमारी ख़ुशी को और बढ़ा दिया है । हमे आशा है कि दुनिया भर के दबे कुचले समाज अपने रहमदिल और कर्तव्यनिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में अपने अधिकारों को पाने में सफल रहेंगे ।
25 बहमन 1359 रूहुल्लाह मूसवी ख़ुमैनी
{ 13 फ़रवरी 1981 }
आयतुल्लाह ख़ामेनई और मुंबई के छात्रों से मुलाक़ात
आयतुल्लाह ख़ामेनई ने 22 बहमन को मुंबई के मुसलमान छात्रों के साथ महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर तथा इस यूनिवर्सिटी के दो अन्य विद्वानों से मुलाक़ात की । आपने मुंबई की अल दावतुल क़ुर्आन संस्था का दौरा भी किया फिर मस्जिदे इत्तेहादुल मुसलेमीन में नमाज़ के बाद तक़रीर की।
हिंदुस्तानी जनता और आयतुल्लाह ख़ामेनई का पुरजोश स्वागत
हैदराबाद में अपनी 24 घंटे की यात्रा के दौरान उलमा , छात्रों और लोगों से मुलाक़ात करने के बाद आयतुल्लाह ख़ामेनई ने बंगलौर की ओर कूच किया जहाँ छात्रों ने ईरान की आईआरजीसी बल की ड्रेस में आपका स्वागत करते हुए आपके सम्मान में परेड करते हुए नारे लगाए “सल्ले अला मोहम्मद - यारे इमाम खुश आमद “
परेड के बाद आप ने इस्लामी स्टूडेंट यूनियन तौहीद के लोगों के बीच तक़रीर की और उनके प्रतिनिधियों से मुलाक़ात की, बाद में आपने बंगलौर शहर के लोगों के बीच तक़रीर करते हुए मुसलमानों और समाज के दबे कुचले लोगों के अधिकारों को बयान किया ।
आपने बंगलौर शहर के सबसे बड़े हॉल में तक़रीर जहाँ छात्रों ने पिछली रात ही अबुज़र नाम की प्रदर्शनी लगाई थी ।
अगले दिन आयतुल्लाह ख़ामेनई ने बंगलौर से 50 किलोमीटर के फासले पर स्थित अलीपुर के लोगों की दावत पर इस बस्ती का दौरा किया जहाँ इमाम ज़ैनुल आबेदीन अ. स. की नस्ल से 50 हज़ार शिया आबाद हैं । इस शहर के लोगों ने ख़ुमैनी ज़िंदाबाद , इस्लाम ज़िंदाबाद , सद्दाम यज़ीद मुर्दाबाद के गगन भेदी नारे लगा कर आपका गर्मजोशी से स्वागत किया । अलीपुर के लोगों ने आयतुल्लाह ख़ामेनई के सामने सद्दाम और शाह हुसैन के पुतलों पर गोलिया चलाकर दोनों को आग लगा दी ।
 ...........................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :