Sunday - 2018 Sep 23
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 190823
Date of publication : 10/12/2017 17:6
Hit : 220

ज़ायोनी अधिकारियों से मिलने के लिए तल अवीव पहुँचा बहरैनी दल ।

बहरैन की आम जनता ने तल अवीव जाने वाले दल की वैधता पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह दल बहरैन का प्रतिनिधित्व नहीं करता नाहि इसे बहरैनी जनता का समर्थन हासिल है ।


विलायत पोर्टल :  विश्व भर में निंदा और आलोचना का सामना कर रहे अमेरिका और ज़ायोनी लॉबी से वफादारी दिखाने के लिए अरब देशों के तानाशाहों में होड़ से मची हुई है । प्राप्त जानकारी के अनुसार आले खलीफा ने अवैध राष्ट्र इस्राईल से अपनी वफादारी और उसके प्रति अपनी निष्ठां का एक और नमूना देते हुए अपने प्रतिनिधि दल को अवैध राष्ट्र भेजा है । एक ओर क़ुद्स को लेकर ट्रम्प और ज़ायोनी राष्ट्र के फैसलों से दुनिया भर के मुसलमान आहत हैं दूसरी ओर बहरैनी तानाशाह हम्द बिन ईसा आले खलीफा के आदेश पर धार्मिक विद्वानों का यह दल तल अवीव के चार दिवसीय दौरे पर है । सूत्रों के अनुसार आले ख़लीफा दल ने घोषणा की है कि बहरैन में ज़ायोनियों की आवाजाही पर कोई रोक नहीं होगी तथा देश में स्थित उनके धार्मिक स्थलों का निर्माण किया जायेगा । दूसरी ओर अल आलम ने रिपोर्ट दी है कि मस्जिदे अक़्सा पहुँचे आले खलीफा के इस दल को ज़ायोनी सुरक्षा कर्मियों ने मस्जिदे अक़्सा में घुसने भी नहीं दिया । वही बहरैन की आम जनता ने तल अवीव जाने वाले दल की वैधता पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह दल बहरैन का प्रतिनिधित्व नहीं करता नाहि इसे बहरैनी जनता का समर्थन हासिल है । ज्ञात रहे कि ज़ायोनी नेता नेतन्याहू बार बार कह चुके हैं कि इस्राईल और अरब देशों के संबंध में अभूतपूर्व सुधर आ रहा है ।
..............................
तसनीम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :