Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 187959
Date of publication : 20/6/2017 15:11
Hit : 1035

ईरानी सेना का अभियान जारी, आतंकी सरगना को मौत की नींद सुलाया ।

अंसारुल फ़ुरक़ान के सरगना ने ईरान में आतंकी कार्यवाहियों के लिए अफगानिस्तान में तैनात अमेरिकी सैन्य अधिकारियों से कई बार भेंट की थी।

विलायत पोर्टल :
  प्राप्त जानकारी के अनुसार ईरान रिवोल्यूशनरी गार्ड ने आतंक के विरुद्ध अपना अभियान जारी रखते हुए देश के सीस्तान और ब्लूचिस्तान सूबों में आतंकियों के विरुद्ध अभियान चलाते हुए कई दहशतगर्दों को ढेर कर दिया है । प्राप्त जानकारी के अनुसार रिवोल्यूशनरी गार्ड ने आतंकवादी संगठन अंसारुल फुरकान के सरगना जलील क़म्बर ज़ही को उसके ४ साथियों समेत मौत की नींद सुला दिया है। कम्बर ज़ही चाबहार में शबे आशूर के प्रोग्राम, मस्जिदों में आत्मघाती हमलावरों को भेजने, सरकारी कर्मचारियों की हत्या जैसे सैंकड़ों अपराधों में लिप्त था । याद रहे कि अंसारुल फ़ुरक़ान के सरगना ने ईरान में आतंकी कार्यवाहियों के लिए अफगानिस्तान में तैनात अमेरिकी सैन्य अधिकारियों से कई बार भेंट की थी। जलील क़म्बर ज़ही रेगी के जुन्दे शैतान और जैशे ज़ुल्म जैसे कई आतंकी संगठनों का मास्टर माइंड माना जाता था । ईरानी सेना को पिछले कई सालों से इस आतंकवादी की तलाश थी।
 ................
 तसनीम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी.... फ़र्ज़ी यूनिवर्सिटी स्थापित कर भारतीय छात्रों को गुमराह कर रही है अमेरिकी सरकार । वह एक मां थी... क़ुर्आन को ज़हर बता मस्जिदें बंद कराने का दम भरने वाले डच नेता ने अपनाया इस्लाम । तुर्की के सहयोग से इदलिब पहुँच रहे हैं हज़ारो आतंकी । आयतुल्लाह सीस्तानी की दो टूक , इराक की धरती को किसी भी देश के खिलाफ प्रयोग नहीं होने देंगे । ईरान विरोधी किसी भी सिस्टम का हिस्सा नहीं बनेंगे : इराक सीरिया की शांति और स्थायित्व ईरान का अहम् उद्देश्य, दमिश्क़ और तेहरान के संबंधों में और मज़बूती के इच्छुक : रूहानी आयतुल्लाह सीस्तानी से मुलाक़ात के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत नजफ़ पहुंची इस्लामी इंक़ेलाब की सुरक्षा ज़रूरी , आंतरिक और बाह्र्री दुश्मन कर रहे हैं षड्यंत्र : आयतुल्लाह जन्नती आख़ेरत में अंधेपन का क्या मतलब है....