Monday - 2018 Oct 15
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185940
Date of publication : 26/2/2017 20:4
Hit : 379

होर्मुज जलडमरूमध्य में ईरानी नौसेना का विशाल सैन्य अभ्यास।

यह अभ्यास हुर्मुज़ जलडमरू से लेकर ओमान सागर बाबुल मंदब जलडमरू तथा उत्तरी हिन्द महासागर तक 2 लाख वर्ग किलोमीटर में हो रहा है।

विलायत पोर्टल :
ईरान नौसेना ने हुर्मुज़ जलडमरू से लेकर उत्तरी हिंद महासागर तक अपने महाभियास विलायत ९५ के अंतिम चरण का शुभारम्भ कर दिया है सेनाध्यक्ष एडमिरल हबीबुल्लाह सय्यारी ने सहन्द नामक विध्वंसक युद्धपोत से इस अभ्यास का शुभारम्भ किया । यह अभ्यास हुर्मुज़ जलडमरू से लेकर ओमान सागर बाबुल मंदब जलडमरू तथा उत्तरी हिन्द महासागर तक 2 लाख वर्ग किलोमीटर में हो रहा है। मकरान तट पर भी ४४ किलोमीटर के क्षेत्र में समुद्री ब्रिगेड अभ्यास में व्यस्त है नौ सेना से जुड़े हेलीकाप्टर, ड्रोन इत्यादि भी क्षेत्र की निगरानी में व्यस्त हैं। एडमिरल सय्यारी ने इस अभ्यास को क्षेत्र की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि देश की जल सीमाओं की सुरक्षा तथा रक्षा क्षेत्र में उन्नति तथा समुद्री क्षेत्र विशेष कर उत्तरी हिन्द माह सागर में आतंकी गतिविधियों पर नकेल कसना इस अभ्यास का उद्देश्य है उन्होंने अभ्यास के विशाल क्षेत्रफल पर कहा कि इस पुरे क्षेत्र की सुरक्षा ईरान का उद्देश्य है क्योंकि इस क्षेत्र से हमारे कारोबारी पोत गुज़रते हैं । ज्ञात रहे कि पिछले महीने से कई चरणों में होने वाले इस अभ्यास में ईरान सेना ने कई आधुनिक हथियारों का अनावरण किया है । .............
प्रेस टीवी


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :