Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185919
Date of publication : 25/2/2017 20:21
Hit : 178

इस्राईल ने मानवाधिकार कार्यकर्ता को वीज़ा देने से किया इंकार।

मानवाधिकार आयोग ने ज़ायोनी प्रवक्ता की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इस्राईल मानवाधिकार आयोग तथा दूसरे मानव सहायता समूहों को पश्चिमी तट एवं ग़ज़्ज़ा पट्टी में मानव सहायता पहुंचाने में बाधा डाल रहा है ।


विलायत पोर्टल: न्यूयॉर्क स्थित मानवाधिकार मुख्यालय ने ७ महीने पहले फिलिस्तीन में अपने दफ्तर के निदेशक शाकेरी के लिए वीज़ा की अपील की थी ज़ायोनी आप्रवासन विभाग ने इस संगठन पर फिलिस्तीन के समर्थन का आरोप लगते हुए वीज़ा देने से इंकार कर दिया है।
इराकी मूल के अमेरिकन नागरिक शाकेरी ने इस फैसले पर हैरत जताते हुए कहा कि हम ९० से अधिक देशों में कड़ी मेहनत के बाद रिपोर्ट तैयार करते हैं लेकिन कुछ लोगों को हमारा काम पसन्द नहीं है तथा वह हमे रोक पाने में असमर्थ हैं।
ज़ायोनी विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता ने मानवधिकार आयोग पर निशाना साधते हुए उसे मानवधिकार न मानते हुए इस्राईल विरोधी संगठन बताते हुए कहा कि इस्राईल को नुकसान पहुँचाना ही उनका उद्देश्य है जो हमे नुकसान पहुंचते हों हम क्यों उन्हें वर्किंग वीजा दे।
मानवाधिकार आयोग ने ज़ायोनी प्रवक्ता की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इस्राईल मानवाधिकार आयोग तथा दूसरे मानव सहायता समूहों को पश्चिमी तट एवं ग़ज़्ज़ा पट्टी में मानव सहायता पहुंचाने में बाधा डाल रहा है। अमेरिकी विदेश विभाग ने ज़ायोनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के बयान को रद्द करते हुए कहा कि कभी कभी हम भी मानवधिकार आयोग की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं होते लेकिन यह एक संवैधानिक एवं भरोसेमंद संस्था है। आयोग की रिपोर्ट के अनुसार अक्टूबर २०१५ से अब तक ज़ायोनिस्ट सैनिकों ने फिलिस्तीनियों पर १५० से अधिक हिंसक कार्यवाही की हैं। फिलिस्तीनी नागरिक भेदभाव के शिकार हैं तथा ज़ायोनिस्ट सत्ता फिलिस्तीनी भूमि पर यहूदी कालोनियां बनाने में व्यस्त है। ..............

 प्रेस टीवी


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का सम्मान करते हैं लेकिन इस्राईल की नकेल कसो : लेबनान दक्षिण कोरिया ने आंग सान सू ची से ग्वांगजू पुरस्कार वापस लेने का फैसला किया । सूडान ने इस्राईल के अरमानों पर पानी फेरा, संबंध सामान्य करने से किया इंकार । हज़रत फ़ातिमा मासूमा स.अ. सऊदी अरब का अमेरिका को कड़ा संदेश, हमारे मामले में मुंह बंद रखे सीनेट । इदलिब की आज़ादी प्राथमिकता, अतिक्रमणकारियों को सीरिया से भागना ही होगा : दमिश्क़ हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स की मांग, अमेरिका से राजनैतिक संबद्धता कम करे इंग्लैंड। अवैध राष्ट्र ने लगाई गुहार, लेबनान सेना पर दबाव बनाए अमेरिका । अमेरिकी गठबंधन आतंकी संगठनों की मदद से सीरिया के तेल संपदा को लूटने में व्यस्त । मासूमा ए क़ुम स.अ. की शहादत के शोक में डूबा ईरान, क़ुम समेत देश भर में मातम । अमेरिका ने स्वीकारा, असद को पदमुक्त करना उद्देश्य नहीं । सिर्फ दो साल, और साठ हज़ार लोगों की जान ले चुका है यमन संकट । हमास ने दिया इस्राईल को गहरा झटका, पकडे गए ड्रोन विमानों का क्लोन बनाया । आले सऊद की काली करतूत, क़तर पर हमला कर हड़पने की साज़िश का भंडाफोड़ । रूस मामलों में पोम्पियो की कोई हैसियत नहीं, अमेरिका की विदेश नीति का भार जॉन बोल्टन के कंधों पर : लावरोफ़